विक्रमसिंघे होंगे श्रीलंका के नए प्रधानमंत्री, Rajapaksa ने दिया इस्तीफा

कोलंबो। श्रीलंका के विवादित रूप से प्रधानमंत्री बनाए गए Mahinda Rajapaksa ने शनिवार को पद से इस्तीफा दे दिया। सांसद शेहन सेमासिंघे ने संवाददाताओं को बताया कि राजपक्षे ने यूनाइटेड पीपुल्स फ्रीडम एलायंस (यूपीएफए) के सांसदों को बताया कि उन्होंने पद से इस्तीफा दे दिया है। गौरतलब है कि राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरिसेना ने एक विवादास्पद कदम के तहत 26 अक्टूबर को रानिल विक्रमसिंघे को हटाकर राजपक्षे को प्रधानमंत्री बनाया था, उच्चतम न्यायालय के दो अहम फैसलों के कारण राजपक्षे का इस पद पर बने रहना नामुमकिन हो गया था।

श्रीलंका के प्रधानमंत्री राजपक्षे ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार राजपक्षे ने प्रधानमंत्री पद से इस्तीफा दिया है। विवादों में फंसे प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे के प्रधानमंत्री पद से इस्तीफे के बाद हाल ही में इस पद से बर्खास्त किए गए रानिल विक्रमसिंघे के रविवार को दोबारा प्रधामंत्री पद की शपथ लेने की उम्मीद है।

कोलंबो पेज की एक रिपोर्ट के अनुसार राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरिसेना बर्खास्त किए जा चुके प्रधानमंत्री विक्रमसिंघे को दोबारा इस पद पर नियुक्त करने के लिए कथिततौर पर तैयार हैं। राष्ट्रपति ने शुक्रवार को उनसे फोन पर बातचीत की थी। विक्रमसिंघे की यूनाइटेड नेशनल पार्टी (यूएनपी) ने कहा कि बातचीत के दौरान यह तय हुआ कि वह रविवार को सुबह 10 बजे प्रधानमंत्री पद की शपथ लेंगे।

दरअसल राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरिसेना ने एक विवादास्पद कदम के तहत 26 अक्टूबर को रानिल विक्रमसिंघे को हटाकर राजपक्षे को प्रधानमंत्री बनाया था, जिसके बाद देश में संवैधानिक संकट उत्पन्न हो गया था । विक्रमसिंघे ने अपनी बर्खास्तगी को उच्चतम न्यायालय में चुनौती दी थी।

समाचार पत्र ने कहा कि नए मंत्रिमंडल को सोमवार को शपथ दिलाई जाएगी। इसमें श्रीलंका फ्रीडम पार्टी के छह सांसदों सहित कुल 30 सदस्य होंगे। राजपक्षे के बेटे नमाल राजपक्षे ने ट्वीट किया, ‘‘देश में स्थिरता सुनिश्चित करने के लिए पूर्व राष्ट्रपति राजपक्षे ने कल राष्ट्र को संबोधित करने के बाद प्रधानमंत्री पद से इस्तीफा देने का फैसला किया है।’’

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *