KD हाॅस्पिटल में चिकित्सकों ने किया मरीज का Hip Implant

मथुरा। KD मेडिकल काॅलेज-हाॅस्पिटल एण्ड रिसर्च सेण्टर के हड्डी रोग विशेषज्ञ डाॅ. हर्षित जैन और उनकी टीम ने सौंख, मथुरा निवासी 65 वर्षीय रोशन सिंह का Hip Implant कर उसकी उम्मीदों को पुनः जिन्दा कर दिया है। Hip Implant के बाद रोशन सिंह बिना किसी सहारे के न केवल चल-फिर पा रहे हैं बल्कि उनके निराश चेहरे पर रौनक लौट आई है।

ज्ञातव्य है कि रोशन सिंह कूल्हे के दर्द से पिछले एक साल से परेशान थे। चल-फिर सकने में असमर्थ रोशन सिंह दो माह से चारपाई पर ही लेटे रहते थे, जिसकी वजह से उनके घुटनों की मांसपेशियां भी सिकुड़ गईं और एक पैर 10-12 सेंटीमीटर छोटा हो गया। उनके परिजनों ने उन्हें दिल्ली, जयपुर, आगरा के विभिन्न अस्पतालों में दिखाया लेकिन समस्या यथावत बनी रही। रोशन सिंह काफी निराश थे और भविष्य में दोबारा अपने पैरों पर खड़े होने की उम्मीद भी छोड़ चुके थे। आखिरकार रोशन सिंह के परिजनों को उम्मीद की आखिरी किरण के. डी. मेडिकल काॅलेज-हाॅस्पिटल एण्ड रिसर्च सेण्टर में दिखी और वे डाॅ. हर्षित जैन से मिले। डाॅ. जैन ने रोशन सिंह की कुछ जांचें कराईं जिनसे पता चला कि रोशन सिंह के कूल्हे की हड्डी न केवल गल गई है अपितु वह अंदर भी धंस गई है। हड्डी गल जाने से रोशन के पैर की मांसपेशियां भी सिकुड़ गईं और एक पैर छोटा हो गया है।

प्रमुख जांचों का अवलोकन करने के बाद हड्डी रोग विशेषज्ञ डाॅ. हर्षित जैन ने रोशन के परिजनों को कूल्हा प्रत्यारोपण की सलाह दी। परिजनों की स्वीकृति के बाद 30 दिसम्बर को डाॅ. हर्षित जैन के नेतृत्व और डाॅ. हरीश चंद्र तालान, डाॅ. हेमराज, निश्चेतना विशेषज्ञ डाॅ. मंजू, डाॅ. विदुषी, डाॅ. दीपक, ओटी टेक्नीशियन पवन, राहुल, प्रदीप, राजवीर आदि के सहयोग से रोशन सिंह का कूल्हा प्रत्यारोपित किया गया। डाॅ. हर्षित जैन का कहना है कि यह सर्जरी काफी जटिल थी। इसमें न केवल कूल्हा प्रत्यारोपित किया गया बल्कि घुटने की मांसपेशियों को भी सही किया गया।

विभागाध्यक्ष आर्थो डाॅ. हरीश चंद्र तालान का कहना है कि अब रोशन पूरी तरह से स्वस्थ है तथा बिना सहारे के चल-फिर पा रहा है। रोशन के पैर की लम्बाई भी सही हो गई है। रोशन के परिजनों ने सफल सर्जरी के लिए के. डी. हाॅस्पिटल के चिकित्सकों का आभार माना है। आर. के. एजुकेशन हब के अध्यक्ष डाॅ. रामकिशोर अग्रवाल, चेयरमैन मनोज अग्रवाल, डीन डाॅ. रामकुमार अशोका, मेडिकल सुपरिंटेंडेंट डाॅ. राजेन्द्र कुमार ने सफल सर्जरी के लिए चिकित्सकों की टीम को बधाई दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *