संसद में हंगामे पर स्‍पीकर की सख्‍त चेतावनी, पूरे सत्र के लिए निलंबित कर देंगे

नई दिल्‍ली। दिल्ली हिंसा को लेकर संसद में आज भी संग्राम छिड़ा हुआ है। सांसदों के बीच कल की धक्का-मुक्की के बाद आज लोकसभा की कार्यवाही शुरू होते ही फिर हंगामा शुरू हो गया। विपक्षी सांसद दिल्ली हिंसा पर तुरंत चर्चा की मांग कर रहे थे जबकि स्पीकर ओम बिरला ने प्रश्नकाल के बाद चर्चा की बात कही।
स्पीकर ने कल के हंगामे और धक्का-मुक्की पर विपक्षी सांसदों को कड़ी चेतावनी देते हुए कहा कि अगर कोई सांसद दूसरे की सीट के पास गया, तो वह पूरे सत्र के लिए उसे निलंबित कर देंगे।
..तो पूरे सत्र के लिए निलंबित कर दूंगा
लोकसभा स्पीकर ने विपक्षी सांसदों की दिल्ली हिंसा पर तुरंत चर्चा की मांग को लेकर कहा, ‘इस पर सहमति बनी थी कि गंभीर विषय आएगा तो प्रश्नकाल के बाद ही उस पर चर्चा होगी। कल की धक्का-मुक्की पर भी सर्वदलीय बैठक के अंदर दो बातों पर चर्चा हुई है। सदन के अंदर सत्ता या फिर प्रतिपक्ष का कोई भी सदस्य अगर एक-दूसरे की सीट पर नहीं जाएगा। जाएगा तो फिर मैं पूरे सत्र के लिए निलंबित करूंगा। सदन इसी तरह से चलेगा।’
अधीर बोले, दिल्ली में लाशों की कतार बढ़ रही
इसके बाद सदन में हंगामा शुरू हो गया। कांग्रेस सांसद दल के नेता अधीर रंजन ने कहा कि हम आम लोगों की नुमाइंदे हैं। दिल्ली में लाशों की कतार बढ़ रही है। यह विषय उठाने की हम अधिकार दीजिए। दिल्ली जल रही है। पूरे देश की निगाह इस पर टिकी हुई है। सरकार इस पर चर्चा नहीं करना चाहती है। हंगामा बढ़ने के बाद स्पीकर ने सदन की कार्यवाही 12 बजे तक के लिए स्थगित कर दी।
लोकसभा में विपक्ष का जोरदार हंगामा
बता दें कि लोकसभा में सोमवार को दिल्ली हिंसा के मुद्दे पर कांग्रेस सहित विपक्षी सदस्यों ने भारी हंगामा किया। था कांग्रेस सदस्य गृह मंत्री अमित शाह के इस्तीफे की मांग कर रहे थे। इस दौरान कांग्रेस और बीजेपी सदस्यों में धक्का मुक्की भी हुई। इस समय बीजेपी के संजय जायसवाल प्रत्यक्ष कर विवाद से विश्वास विधेयक, 2020 पर चर्चा में हिस्सा ले रहे थे। बाद में जायसवाल ने संवाददाताओं से कहा कि कांग्रेस सदस्य उनकी ओर आक्रामक तरीके से बढ़े और उनके सामने बैनर लेकर आ गए। उन्होंने कहा कि इसके बाद बीजेपी सदस्य उनके बचाव में आ गए लेकिन कांग्रेस सदस्यों ने धक्का-मुक्की शुरू कर दी।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *