अवैध खनन मामले में सपा एमएलसी Ramesh Mishra भी नहीं पहुंचे ईडी के समक्ष

लखनऊ। अवैध खनन मामले में सपा एमएलसी Ramesh Mishra के खिलाफ दर्ज कियेे गयेे मनी लॉन्ड्रिंग का केस में ईडी द्वारा समन किए जाने के बाद भी Ramesh Mishra नहीं पहुंचे। अवैध खनन मामले में पूछताछ के लिए प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने सपा एमएलसी रमेश मिश्र को समन किया था । उन्होंने विधान परिषद में बैठक होने का हवाला देकर न पहुंच पाने की बात कही जिस पर ईडी उन्हें फिर से समन करेगी। सपा एमएलसी पर मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट के तहत 17 जनवरी को केस दर्ज किया गया था।

दरअसल, हमीरपुर में 2012 से 2016 के बीच हुए अवैध खनन के मामले में सीबीआई के बाद प्रवर्तन निदेशालय ने मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट समेत कई अन्य धाराओं में एफआईआर दर्ज की थी।

एफआईआर में हमीरपुर की तत्कालीन जिलाधिकारी बी. चंद्रकला समेत उन सभी 11 लोगों को नामजद किया गया था जिनके नाम सीबीआई की एफआईआर में थे।

ईडी ने Ramesh Mishra को पूछताछ के लिए समन जारी कर 24 जनवरी से 1 फरवरी के बीच बुलाया

गौरतलब है कि हमीरपुर में 2012 से 2016 के बीच हुए अवैध खनन के मामले में सीबीआई के बाद अब प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट समेत कई अन्य धाराओं में एफआईआर दर्ज की है। एफआईआर में हमीरपुर की तत्कालीन जिलाधिकारी बी. चंद्रकला समेत उन सभी 11 लोगों को नामजद किया गया है जिनके नाम सीबीआई की एफआईआर में थे।
ईडी ने Ramesh Mishra को पूछताछ के लिए समन जारी कर 24 जनवरी से 1 फरवरी के बीच बुलाया है। चंद्रकला को उनके महागुण मार्फेस, सेक्टर- 50 नोएडा स्थित आवास पर नोटिस भेजकर 24 जनवरी को सुबह 11 बजे ईडी के लखनऊ कार्यालय में बुलाया गया है। चंद्रकला इन दिनों अध्ययन अवकाश पर हैं। वहीं एमएलसी रमेश मिश्रा को 28 जनवरी को पूछताछ के लिए बुलाया गया है।

जिलाधिकारी से मांगा खनन का ब्यौरा
सूत्रों की मानें तो ईडी ने हमीरपुर के वर्तमान जिलाधिकारी से 2012 से 2016 के बीच हुए खनन पट्टों का पूरा ब्यौरा मांगा है। इस मामले में पूछताछ के बाद अगर किसी अन्य का नाम सामने आता है तो उसे भी जांच में शामिल किया जाएगा।
-Legend News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *