मोदी और शाह के मुखौटे लगाकर चाय बेचने पर स्‍मृति ईरानी का पलटवार

मुंबई। पांच राज्‍यों के विधानसभा चुनावों में बीजेपी की करारी शिकस्‍त के बाद कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष अमित शाह का मुखौटा पहनकर उन्‍हें चाय बेचते हुए दिखाया। इस कार्यक्रम के दौरान पूर्व केंद्रीय गृहमंत्री सुशील कुमार शिंदे बेटी और महाराष्‍ट्र के शोलापुर से विधायक परिणीति शिंदे भी मौजूद थीं। इस तस्‍वीर के सोशल मीडिया में वायरल होने के बाद बुधवार को केंद्रीय मंत्री स्‍मृति इरानी ने तीखा पलटवार किया।
स्‍मृति इरानी ने एक ट्वीट के जवाब में ट्वीट कर कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने करियर की शुरुआत बेहद साधारण तरीके से की थी। आज के इस घमंड भरे जश्‍न में मेहनतकश लोगों के प्रति वह मानसिकता सामने आ गई जो उनसे नफरत करती है। और अभी 24 घंटे भी नहीं हुए हैं। बता दें कि चुनाव परिणाम आने के बाद राहुल गांधी ने कहा था कि पीएम मोदी के अंदर अहंकार गया है इसीलिए उन्‍होंने युवाओं और किसानों की आवाज सुनने से इंकार कर दिया।
राहुल गांधी ने जोर देकर कहा, ‘थोड़ा अहंकार आ गया है। मेरा मानना है कि यह किसी नेता के लिए घातक होता है। उनके काम करने के तरीके से मैंने यह बात सीखी है। मेरे लिए इस देश के लोग ही सबसे अच्छे शिक्षक हैं।’ कांग्रेस अध्‍यक्ष ने कहा कि 2014 के चुनाव से उन्हें जो सबसे अहम चीज सीखने को मिली, वह ‘विनम्रता’ है।
उन्होंने कहा, ‘यह एक महान देश है और इस देश में सबसे अहम चीज है कि लोग क्या मानते हैं। बेबाकी से कहूं तो नरेंद्र मोदी जी ने मुझे सबक सिखाया कि क्या नहीं करना चाहिए। पांच साल पहले उन्हें (मोदी को) इस देश में बदलाव लाने का बड़ा मौका दिया गया। दुखद चीज यह है कि उन्होंने देश की धड़कन सुनने से मना कर दिया।’
बता दें कि पांच राज्‍यों में हुए विधानसभा चुनाव में तीन में कांग्रेस पार्टी सरकार बनाने जा रही है। हालांकि उसे मिजोरम में तगड़ा झटका लगा है और तेलंगाना में टीआरएस को बंपर सफलता मिली है। कांग्रेस पार्टी के समक्ष अब सबसे बड़ी चुनौती छत्‍तीसगढ़, राजस्‍थान और मध्‍य प्रदेश में सीएम चुनने की है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *