ज़हरीली शराब मामले में एसआइटी Saharanpur पहुंची, जांच शुरू

Saharanpur। यूपी के Saharanpur में जहरीली शराब कांड में अब तक अस्सी से भी ज्यादा लोगों की मौत हो जाने के बाद गठित की गई SIT टीम ने अपनी जांच पड़ताल शुरू कर दी है।

आज बुधवार को सुबह के समय एडीजी संजय सिंघल के नेतृत्व में एसआइटी टीम ने Saharanpur के ग्राम उमाही के प्राथमिक विद्यालय में डेरा डाल लिया। एसआइटी टीम ने यहां ग्रामीणों और मृतकों के परिजनों से पूछताछ की।

उल्लेखनीय है कि जहरीली शराब कांड के बाद प्रदेश के मुख्यमंत्री ने जांच के लिए विशेष अनुसंधान दल यानी एसआइटी को जिम्मेदारी दी है। यह दल दस दिन के भीतर अपनी रिपोर्ट प्रशासन को सौंपेगा। एसआइटी टीम के प्रमुख संजय सिंघल ने यहां खुद ग्रामीणों से सवाल जवाब किए और जानकारी ली। ग्राम उमाही में जांच पड़ताल करने के बाद टीम ने अन्य ग्रामों का रुख किया।

वहीं सहारनपुर के उमाही गांव की महिलाएं जहरीली शराब के विरोध में लाठी डंडे लेकर सड़कों पर उतर आईं। यहां महिलाओं ने जागरुकता रैली निकाली और जहरीली शराब के विरोध में अपना गुस्सा जाहिर किया।

महिलाओं के अनुसार अब गांव में शराब का बहिष्कार किया जाएगा। न तो यहां किसी को शराब पीने दी जाएगी और न ही इसे बेचा जाएगा। यदि कोई ऐसा करता है तो उसकी पुलिस में शिकायत कर दी जाएगी। गौरतलब है कि जहरीली शराब पीने से जिलें में इतनी बड़ी संख्या में मौतें होने के बाद ग्रामीणों में गम और गुस्सा है।

ग्रामीणों ने निकाली जागरूकता रैली 

जहरीली शराब प्रकरण को लेकर आज ग्रामीणों ने जागरूकता रैली निकाली। रैली में खासतौर से महिलाएं शामिल रही जो लाठी लेकर चल रही थीं। उमाही गांव के जहरीली शराब से 14 लोगों की मौत हुई है।इससे पूर्व गांव उमाही में ग्रामीणों ने शराब के विरुद्ध जागरूकता रैली निकाली। रैली में महिलाएं हाथ में लाठी डंडे लेकर अपने गुस्से का इजहार भी कर रही थी। रैली निकालने वाले ग्रामीणों का कहना था कि अब गांव में न तो शराब पीने दी जाएगी और न ही उसकी बिक्री होने दी जाएगी। ऐसा करने वाले को पकड़कर पुलिस के हवाले किया जाएगा। एसआइटी के सामने से भी रैली गुजरी।

दस पीड़ितों के बयान दर्ज 

उधर एसआइटी टीम के संजय सिंघल व सदस्य मंडलायुक्त सीपी त्रिपाठी, आइजी शरद सचान गांव उमाही पहुंचे। यहां प्राथमिक विद्यालय में टीम ने लगभग दस पीड़ितों के बयान दर्ज किये। एडीजी स्वयं ग्रामीणों से सवाल कर रहे थे। इस दौरान डीएम आलोक पांडेय व एसएस पी दिनेश कुमार पी भी मौजूद रहे, लेकिन उन्हें कुछ दूरी पर रखा गया। इसके बाद टीम थाना गागलहेड़ी के गांव शरबतपुर के लिए रवाना है गई।

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »