FIR के खिलाफ हाई कोर्ट पहुंचा सर गंगाराम हॉस्पिटल

नई दिल्‍ली। दिल्ली सरकार की शिकायत पर दिल्ली पुलिस ने सर गंगाराम हॉस्पिटल पर FIR दर्ज की थी। अब सर गंगाराम हॉस्पिटल ने इस शिकायत के खिलाफ दिल्‍ली हाई कोर्ट का रुख किया है। अस्‍पताल प्रबंधन ने इस बाबत दिल्‍ली पुलिस की ओर से दर्ज FIR को रद्द करने की गुहार लगाई है। दिल्ली हाईकोर्ट हाई कोर्ट 15 जून को इस पर सुनवाई करेगा।
दरअसल, हॉस्पिटल के खिलाफ FIR दर्ज करने का कारण कोरोना संबंधित नियमों को तोड़ने का आरोप है। इसके खिलाफ दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने पुलिस के पास शिकायत दर्ज कराई थी। जिसके बाद पुलिस ने FIR दर्ज की थी।
केजरीवाल ने साधा था निशाना
सीएम अरविंद केजरीवाल ने अस्पतालों पर विपक्षी दलों के साथ मिलकर बदमाशी करने का भी आरोप लगाया था। इसके बाद दिल्ली सरकार ने सर गंगाराम अस्पताल पर एफआईआर दर्ज करा दी थी। यह FIR आईपीसी की धारा 154 के तहत दर्ज कराई गई है। आरोप है कि अस्पताल अपनी क्षमता के मुताबिक लोगों को सुविधाएं नहीं दे रहा है। उसपर भर्ती न करने और बेडों की कालाबाजारी का आरोप लगाया गया था।
जारी किया था आदेश
अरविंद केजरीवाल ने कहा था कि कोई भी अस्पताल अब किसी भी संदिग्ध केस को वापस न भेजे। उन्होंने आरोप लगाया था कि अस्पतालों की सेटिंग राजनीतिक दलों से है और वे दिल्ली सरकार को बदनाम करने की कोशिश कर रहे हैं। वहीं स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने कहा था कि दिल्ली में पर्याप्त टेस्ट नहीं किए जा रहा है। उन्होंने कहा कि टेस्टिंग सेंटर्स पर दिल्ली सरकार बहुत कम सैंपल पहुंचा रही है। सीएम ने बचाव करते हुए कहा कि कई लैब गलती कर रही थीं।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *