शॉल ओढ़कर फंस गए गुरू तो माफी मांग कर पीछा छुड़ाया

चंडीगढ़। धार्मिक प्रतीकों वाला शॉल ओढ़कर कथित तौर पर सिख समुदाय की भावनाएं आहत करने वाले कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू ने अपने इस व्यवहार के लिए बुधवार को माफी मांग ली।
अकाल तख्त जत्थेदार ज्ञानी हरप्रीत सिंह ने सिद्धू के इस आचरण को लेकर पैदा हुए विवाद के बाद मंगलवार को उन्हें माफी मांगने की सलाह दी थी। सिद्धू ने कहा कि अनजाने में सिखों की भावनाओं को आहत करने के लिए वह माफी मांगते हैं।
उन्होंने ट्वीट किया, ‘श्री अकाल तख्त साहिब सर्वोच्च है। अनजाने में मैंने यदि एक भी सिख की भावना को आहत किया है तो मैं उसके लिए क्षमा मांगता हूं। लाखों लोग अपनी पगड़ी या कपड़ों पर सिख धर्म के प्रतीकों का इस्तेमाल करते हैं। यहां तक कि गर्व से टैटू भी बनवाते हैं। एक आदर्श सिख के नाते मैंने भी बिना किसी गलत नीयत के अनजाने में शॉल ओढ़ी।’
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *