भोपाल में बना किन्नरों के लिए Toilet

भोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में किन्नर के लिए भी नगर निगम भोपाल ने Toilet बनाया है। यह Toilet समावेशी जनसुविधा केन्द्र में बनाया गया है और मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज इसका लोकार्पण किया।

नगर निगम भोपाल के महापौर आलोक शर्मा ने दावा किया है कि यह जनसुविधा केन्द्र देश एवं प्रदेश में इकलौता समावेशी जनसुविधा केन्द्र है।

इसमें एक ही परिसर में पृथक-पृथक प्रवेश द्वार से महिला, पुरूष, दिव्यांग तथा किन्नर के लिए मूलभूत सुविधाएं मुहैया कराई गई है। शर्मा ने कहा, ‘‘प्रदेश सरकार समाज के सभी वर्गों के प्रति संवेदनशील है। इसी भावना के अनुरूप नगर निगम द्वारा किन्नरों को क्वालिटी लाइफ उपलब्ध कराने के प्रयास किए हैं। उनके लिए सार्वजनिक शौचालय बनवाया गया है।’’ यह शौचालय यहां मंगलवारा इलाके में बनाया गया है। इस इलाके में शहर के किन्नर बरसों से रह रहे हैं।

नगर निगम के एक अधिकारी ने बताया कि इस समावेशी जनसुविधा केन्द्र पर 35 लाख रूपये की लागत आई है।

चौहान ने किन्नरों के लिए निर्मित शौचालय का लोकार्पण करने के बाद कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘प्रधानमंत्री आवास योजना में किन्नरों को आवास निर्माण के लिए केंद्र सरकार के अनुदान के अतिरिक्त राज्य सरकार की ओर से डेढ़ लाख रुपए का अनुदान दिया जाएगा।’’ उन्होंने कहा कि शीघ्र ही किन्नर पंचायत का आयोजन किया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘किन्नर देश के सम्मानित नागरिक हैं। प्रदेश सरकार उनका पूरा सम्मान करती है। सकारात्मक कार्यों में उनकी सेवाओं का उपयोग सरकार करेगी।’’ चौहान ने कहा कि समाज में किन्नरों की सार्थक भूमिका सुनिश्चित की जाएगी। स्वच्छता का संदेश घर-घर पहुंचाने के लिए प्रदेश में किन्नरों का सहयोग लिया जाएगा।

उन्होंने कहा कि कुपोषण को दूर करने और बेटी बचाओ अभियान के संदेश को भी सर्वव्यापी बनाने में किन्नर समुदाय का सहयोग लिया जाना चाहिए।

चौहान ने कहा कि किन्नर समुदाय को बदनाम करने वाले अवांछनीय तत्वों के विरुद्ध कठोर कार्रवाई के लिए प्रशासन को निर्देशित किया जाएगा।

– एजेंसी