पीएम के आह्वान पर श्रीकृष्ण जन्मस्थान पर हुआ शंखनाद, बजे घण्टे-घड़ियाल

मथुरा। पीएम मोदी के आह्वान पर आज सायंकाल 5 बजे श्रीकृष्ण-जन्मस्थान पर शंखनाद, घण्टे, घड़ियाल वादन कर कोरोना के व‍िरुद्ध सतत कार्य कर रहे राष्ट्रसेवकों के प्रत‍ि आभार जताया गया।

श्रीकृष्ण-जन्मस्थान सेवा-संस्थान के सचिव कपिल शर्मा एवं सदस्य गोपेश्वरनाथ चतुर्वेदी की उपस्थिति में श्रीकृष्ण-जन्मस्थान पर मंदिर के पूजाचार्यगण, अधिकारी व कर्मचारियों के साथ साधु-संताें ने दिव्य शंखध्वनि के मध्य मृदंग, झांझ, मंजीरे, घण्टे-घड़ियाल आदि का वादन जन्मस्थान के तीनों प्रवेश द्वार एवं मंदिर के श‍िखर से किया एवं कोरोना जैसे वैश्व‍िक महामारी से निपटने में दिन-रात लगी विभिन्न एजेंसियों, संगठन, संस्थाओं एवं उनके अधिकारी व कर्मचारियों के प्रति ध्वनि के माध्यम से आभार प्रदर्शन किया गया।

इस संबंध में जानकारी देते हुए संस्थान के सचिव कपिल शर्मा एवं सदस्य गोपेश्वरनाथ चतुर्वेदी ने बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में इस वैश्व‍िक महामारी से निपटने के लिए जो विशेष अभियान चलाया जा रहा है उससे निश्च‍ित रूप से जन-जन में जागरूकता का भाव उत्पन्न हुआ है, लोग सतर्क एवं भयमुक्त हुए हैं।

आज जहां संपूर्ण विश्व इस महामारी से त्राहि-त्राहि कर रहा है वहीं सभी भारतवासी इस महामारी से बचाव के अभियान के साथ मजबूती से खड़े हैं। साधु-संतों, धाार्मिक एवं सामाजिक संस्थाओं, मंदिरों के साथ-साथ भारतवर्ष का जन-जन प्रधानमंत्री जी के साथ इस अभियान में खड़ा है एवं अपने संपूर्ण सामर्थ्य से इस महामारी से निपटने के लिए कृत संकल्पित हैं।

उ. प्र. के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इस वैश्व‍िक महामारी से निपटने के लिए निरन्तर जन-जन को जागरूक और आश्वस्त तो कर ही रहे हैं साथ ही उनके नेतृत्व में प्रदेश में किये जा रहे बचाव के उपायों एवं उनकी लगनशीलता को देखकर प्रदेशवासी पूर्णतः आश्वस्त एवं सजग हैं।

इस आभार ज्ञापन कार्यक्रम में श्रीकृष्ण-जन्मस्थान सेवा-संस्थान के पूजाचार्यगण, परिसर में निवास करने वाले कर्मचारियों के परिजनों के साथ-साथ आसपास के क्षेत्र के निवासी एवं दुकानदारगण उपस्थिति थे।

श्रीकृष्ण-जन्मस्थान सेवा-संस्थान ने सभी से अनुरोध किया है कि सावधानी ही इस महामारी से बचाव का एकमात्र रास्ता है। अतः सभी जन जागरूक रहें, सतर्क रहें एवं सरकार द्वारा जारी दिशा-निर्देशें का पूर्णतः पालन करें। यही आज के समय में मानवता की सेवा एवं धर्म रक्षा का मंत्र है।
इस अवसर पर संस्थान के सभी पूजाचार्यगण, परिसर में निवास करने वाले कर्मचारी एवं उनके परिजन आदि इस आभार कार्यक्रम में उपस्थित थे।

-Legend News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *