वैक्सीन की दौड़ में सीरम इंस्टीट्यूट की COVISHIELD सबसे आगे: ICMR

नई दिल्‍ली। भारत में कोरोना वायरस के मामले रोजाना तेज गति से बढ़ रहे हैं। ऐसे में लोग कोरोना वैक्सीन का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं। दुनियाभर के कई देशों में वैक्सीन पर काम हो रहा है, लेकिन भारत में भी तीन कोरोना वैक्सीन हैं, जिनका तेज गति से परीक्षण किया जा रहा है।
भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (ICMR) के महानिदेशक प्रो. (डॉ.) बलराम भार्गव ने मंगलवार शाम को स्वास्थ्य मंत्रालय की नियमित प्रेस वार्ता में वैक्सीन की स्थिति पर जानकारी दी। उन्होंने बताया कि भारत में तीन कोविड-19 की वैक्सीन पर काम जारी है। इसमें से जो सबसे आगे है, वह सीरम इंस्टीट्यूट की COVISHIELD वैक्सीन है। यह वैक्सीन ट्रायल के फेज 2(बी) और तीसरे चरण में है।
बता दें कि सीरम इंस्टीट्यूट ने वैक्सीन की उपलब्धता के बारे में रविवार को सफाई दी थी। उन्होंने कहा था कि वर्तमान में सरकार ने हमें केवल वैक्सीन का निर्माण करने और भविष्य में उपयोग के लिए भंडार करने की अनुमति दी है।
इसके अलावा डॉ. बलराम भार्गव ने अन्य दो वैक्सीन के बारे में भी बताया। उन्होंने कहा कि भारत बायोटेक और जायडस कैडिला वैक्सीन ने अपना पहला ट्रायल पूरा कर लिया है। भार्गव ने प्रेस वार्ता में कहा कि मैं यह नहीं कहूंगा कि युवा या बुजुर्ग लोग बल्कि गैर-जिम्मेदार, कम सतर्क लोग जो मास्क नहीं पहन रहे हैं, वे ही भारत में महामारी को फैला रहे हैं।
‘साल के अंत तक वैक्सीन बनकर हो जाएगी तैयार’
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने देश में बनने वाली वैक्सीन को लेकर कहा था कि हमारी एक वैक्सीन का परीक्षण तीसरे चरण में है। उन्होंने कहा, ‘हमें पूरा विश्वास है कि इस साल के आखिर तक वैक्सीन बनकर तैयार हो जाएगी।’ हर्षवर्धन ने ट्वीट किया, ‘मैंने उम्मीद जताई है कि अगर सब कुछ ठीक रहा तो भारत इस साल के आखिर तक कोरोना वायरस का टीका हासिल कर लेगा।’
देश में कितने एक्टिव केस?
देश में इस समय कोरोना वायरस संक्रमण के 7,04,348 एक्टिव मामले हैं, जो कुल मामलों का 22.24 प्रतिशत हैं। सुबह आठ बजे अपडेट किए गए आंकड़ों के अनुसार भारत में पिछले 24 घंटे में 60,975 नए मामले आने से कोरोना वायरस संक्रमण के कुल मामलों की संख्या बढ़कर 31,67,323 हो गई है तथा इस अवधि में 848 रोगियों की मौत होने से महामारी से जान गंवाने वालों की कुल संख्या 58,390 हो गई है।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *