सहवाग की भविष्‍यवाणी, अब सीएम भी बनेंगे Saurabh गांगुली

नई दिल्‍ली। पूर्व भारतीय कप्तान Saurabh गांगुली बीसीसीआई के अध्यक्ष बन गए हैं। Saurabh गांगुली की टीम में मिडल ऑर्डर से ओपनिंग बल्लेबाज के रूप में खुद को स्थापित करने वाले विस्फोटक बल्लेबाज वीरेंदर सहवाग ने Saurabh गांगुली के बोर्ड अध्यक्ष बनने पर खुलासा किया है कि इसकी भविष्यवाणी उन्होंने उनके खेलने के दिनों में ही कर दी थी।
सहवाग ने बताया कि उन्होंने साल 2007 में गांगुली के भविष्य को लेकर दो-दो भविष्यवाणियां की थीं, जिनमें से एक सच साबित हो चुकी है और अभी एक का सच होना बाकी है।
वीरेंदर सहवाग की दूसरी भविष्यवाणी यह थी कि गांगुली अपने गृह राज्य पश्चिम बंगाल के मुख्यमंत्री भी बनेंगे। सहवाग को पूरा भरोसा है कि उनकी यह दूसरी भविष्यवाणी भी सही साबित होगी और उन्हें इस लम्हे का इंतजार है।
द इंडियन एक्सप्रेस में लिखे अपने एक कॉलम में वीरेंदर सहवाग ने लिखा, ‘जब मैंने पहली बार यह सुना कि सौरभ गांगुली बीसीसीआई के अध्यक्ष बनने जा रहे हैं, मुझे 2007 की वह घटना याद आ गई, जब हम 2007 में साउथ अफ्रीका दौरे पर थे।’
वीरू आगे लिखते हैं, ‘यह केप टाउन टेस्ट मैच था, जहां मैं और वसीम जाफर जल्दी ही आउट हो गए। तेंदुलकर को नंबर 4 पर बैटिंग करनी थी लेकिन वह मैदान पर उतर नहीं सके। अचानक ही सौरभ गांगुली को नंबर 4 पर बैटिंग के लिए कहा गया। यह उनकी कमबैक सीरीज थी और वहां दबाव भी था। लेकिन जिस ढंग से उन्होंने दबाव और बाकी सभी चिंताओं को संभाला, वह सिर्फ सौरभ गांगुली ही कर सकते थे।
41 वर्षीय इस पूर्व ओपनिंग बल्लेबाज ने लिखा, ‘उस दिन ड्रेसिंग रूम में बैठे हम सभी खिलाड़ी इस बात पर एकमत थे कि अगर हममें से कोई एक किसी दिन बीसीसीआई अध्यक्ष बन सकता है तो वह सिर्फ दादा ही हो सकते हैं। मैंने कहा वह सिर्फ बीसीसीआई अध्यक्ष ही नहीं, बल्कि बंगाल के चीफ मिनिस्टर भी बन सकते हैं। अब इनमें से एक भविष्यवाणी पूरी हो गई है और एक बाकी है।’
बीते सप्ताह 23 अक्टूबर को सौरभ गांगुली ने भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड में बतौर अध्यक्ष अपना नया कार्यभार संभाला है। गांगुली इस पद पर निर्विरोध चुने गए। बता दें सौरभ गांगुली को भारतीय क्रिकेट को नई दिशा देने वाले कप्तान के रूप में जाना जाता है।
सौरभ गांगुली की ही कप्तानी में वीरेंदर सहवाग को टीम इंडिया में ओपनिंग का मौका मिला था। घरेलू क्रिकेट में हमेशा मिडल ऑर्डर में बैटिंग करने वाले सहवाग ने गांगुली के इस फैसले के बाद दुनिया भर में एक खतरनाक बल्लेबाज के रूप में अपनी साख बनाई। अपने इस बेखौफ और असरदार खेल का श्रेय वीरू हमेशा दादा को ही देते हैं।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *