इंग्लैंड के खिलाफ पहले वनडे में चहल को मौका न देने से सहवाग नाराज

नई दिल्ली। टीम इंडिया के पूर्व सलामी बल्लेबाज वीरेंदर सहवाग इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज के पहले वनडे इंटरनेशनल में युजवेंद्र चहल को मौका नहीं दिए जाने से नाराज हैं। भारतीय टीम ने इस मैच में क्रुणाल पंड्या और प्रसिद्ध कृष्णा को पदार्पण का मौका दिया। वहीं कुलदीप यादव भी मंगलवार को प्लेइंग इलवे का हिस्सा बने लेकिन इंग्लैंड के खिलाफ टी20 सीरीज में संघर्ष करने वाले चहल को बाहर कर दिया गया।
एक बातचीत में सहवाग ने कहा कि बल्लेबाज और गेंदबाज के चयन को लेकर शायद अलग तरह का पैमाना आजमाया जा रहा है।
सहवाग ने कहा, ‘आप गेंदबाज को एक खराब मैच के बाद ही बाहर कर देते हैं लेकिन आपने केएल राहुल को चार मौके दिए और फिर पांचवें मैच में बाहर बैठाया। अगर गेंदबाजों का प्रदर्शन अच्छा नहीं रहता तो आपको इतने मौके क्यों नहीं देते।’
उन्होंने कहा, ‘अगर वह जसप्रीत बुमराह होते और उनके चार मैच अच्छे नहीं जाते, तो क्या आप बुमराह को भी टीम से बाहर करने के बारे में सोचते? नहीं, आप कहते, ‘वह अच्छे गेंदबाज हैं और वापसी करेंगे।”
सहवाग ने कहा, ‘युजवेंद्र चहल आपके टॉप 20 बोलर हैं। वह आपको विकेट लेकर देते हैं और उन्होंने 2-3 खराब मैच खेले और अब वह टीम से बाहर हैं। एक आईसीसी रैंकिंग के चोटी के गेंदबाजों में शामिल है और एक बल्लेबाजों में, तो उन दोनों के बीच चयन को लेकर क्या पैमाना है। मुझे यह विचार समझ में नहीं आया।’
उन्होंने आगे कहा, ‘हां, अगर आप किन्हीं गेंदबाजों की जोड़ी की वजह से सीरीज हार जाते हैं कि वे विकेट नहीं ले पाए, जैसे रविंद्र जडेजा और रविचंद्रन अश्विन एक बार नहीं ले पाए थे।’
उन्होंने कहा, ‘हम उस टूर्नमेंट में चैंपियंस ट्रोफी फाइनल हार गए थे। हमारे गेंदबाज बीच के ओवरों में विकेट ले नहीं पाए थे। तो उसके बाद सोच में बदलाव हुआ और कलाई के स्पिनर्स को मौका दिया गया। तर्क यह है कि कलाई के स्पिनर्स बेहतर होते हैं। अब आपने कलाई के स्पिनर चहल को बाहर कर दिया और फिंगर स्पिनर को लेकर आए। मुझे लगता है कि इसके पीछे बल्लेबाजी को भी मजबूत करने की वजह है।’
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *