Air India को बेचने की दूसरी कोशिश शुरू, निविदा मंगाई

नई दिल्‍ली। क़रीब 60 हज़ार करोड़ रुपये के क़र्ज़ में डूबे सरकारी उपक्रम Air India को बेचने की दूसरी कोशिश मोदी सरकार ने शुरू कर दी है.
दो साल के अंदर Air India को बेचने की दूसरी बार कोशिश हो रही है. सरकार ने सोमवार को इस बाबत निविदा मंगाईं है जिसमें Air India के सौ फ़ीसदी हिस्से को बेचने की बात कही गई है.
हालांकि मुंबई के नरीमण प्वाइंट स्थित एयर इंडिया के मुख्यालय और दिल्ली के महादेव मार्ग स्थित कारपोरेट मुख्यालय, इस बिक्री में शामिल नहीं होंगे. दोनों इमारतें सरकार के अधीन रहेंगी.
एयर इंडिया को ख़रीदने के इच्छुक दावेदारों को 17 मार्च तक निविदा भरने को कहा गया है.
इससे पहले 2018 में एयर इंडिया की 76 फ़ीसदी हिस्सेदारी बेचने की कोशिश की गई थी लेकिन कोई ख़रीददार सामने नहीं आया था. हालांकि इस बार ख़रीददार के लिए आसान प्रावधान किए गए हैं.
76 फ़ीसदी हिस्सेदारी के वक्त ख़रीददार को 33,392 करोड़ रुपये का क़र्ज़ चुकाना था जबकि इस बार 100 फ़ीसदी हिस्सेदारी के लिए महज़ 23286 करोड़ रुपये चुकाने होंगे.
एयर इंडिया के साढ़े तेरह हज़ार से ज़्यादा कर्मचारी हैं.
-BBC

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *