उत्तर प्रदेश में सात महीने बाद आज से स्‍कूल खुलना शुरू

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में सोमवार से स्कूल खुले तो अलग ही नजारा दिखा। जो छात्र छुट्टियों के बाद स्कूल पहुंचकर दोस्तों को गले लगाते थे, हाथ मिलाते थे, उनमें दूरी नजर आई।
करीब सात महीने बाद उत्तर प्रदेश में सोमवार से स्कूल फिर से खुल गए हैं। फिलहाल स्कूलों में 9वीं से 12वीं के स्टूडेंट्स के लिए क्लासेस लगाई जाएंगी। स्कूलों में कोरोना से बचने के लिए प्रोटोकॉल तय किए गए हैं। स्क्रीनिंग, सैनिटाइजेशन, मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग का खास ख्याल रखा जा रहा है। क्लास अटेंड करने के लिए छात्र पैरंट्स की लिखित इजाजत साथ ला रहे हैं। तमाम इंतजामों के बाद स्कूलों में छात्रों की संख्या बहुत कम नजर आई। कई कक्षाओं में तो 1 या 2 छात्र ही स्कूल पहुंचे। छात्र एक दूसरे से दूर से बा करते नजर आए।
ऐसे दिखा क्लास का नजारा
स्कूल के फर्नीचर, स्टेशनरी, कैंटीन, लैब के साथ ही पूरे परिसर और क्लास रूम को रोज सैनिटाइज करना है। एक क्लास में एक दिन में 50 फीसदी बच्चे ही बैठ सकते हैं। दूसरे दिन बाकी बच्चों की पढ़ाई होगी। दो छात्रों के बीच 6 फीट की दूरी अनिवार्य होगी। कोई भी छात्र अपने अभ‍िभावक की ब‍िना ल‍िख‍ित अनुमत‍ि के स्कूल नहीं आ सकेगा।
हाथ सैनिटाइज करने के लिए लगाई गई मशीन
स्कूल के कार्यकलाप में सोशल डिस्टेंसिंग का ख्याल रखा जा रहा है। कहा गया है कि अभिभावक खुद बच्चे को स्कूल लाएं और लेकर जाएं। बच्चे को यूनिफॉर्म में पूरे बाजू की शर्ट, फुल पैंट और जूते-मोजे पहनना जरूरी है। गाइडलाइंस का पालन बहुत अनिवार्य है। गोरखपुर के एक स्कूल में इस तरह छात्र ने सैनिटाइज किए हाथ।
क्लास में नहीं उतार सकेंगे मास्क
क्लासरूम में मास्क उतारने की अनुमति नहीं है। केंद्रीय गृह मंत्रालय की गाइडलाइन में कहा गया है कि स्कूलों की तरफ से छात्र पर कक्षा में आने के लिए कोई दबाव नहीं डाला जाएगा। छात्रों के स्कूल आने के लिए अभिभावकों की लिखित अनुमति सबसे जरूरी है। इसके साथ स्कूल ऑनलाइन कक्षा पहले की तरह जारी रख सकेंगे। प्रयागराज के एक स्कूल में छात्रों को इस तरह दिया गया प्रवेश।
यह है यूपी के स्कूलों की टाइमिंग
सरकार की गाइडलाइंस के मुताबिक सुबह 8.50 से दोपहर 3.20 तक ही स्कूल खोले जा सकते हैं। स्कूल दो पालियों में चलाए जाएंगे। सुबह 8.50 से दोपहर 11.50 तक कक्षा 9 व 10 और 12.20 से 3.20 तक कक्षा 11 व 12 की कक्षाएं चलेंगीं। मुरादाबाद के स्कूल में इस तरह छात्रों को पढ़ाने के साथ चलीं ऑनलाइन कक्षाएं।
हॉल में लगाई गई कक्षाएं
महामारी के बीच कक्षा 9वीं-12वीं तक के छात्रों के लिए स्कूल फिर से खुल गए हैं। स्कूल में कोरोना वायरस को लेकर सभी व्यवस्थाएं नजर आईं। कई स्कूलों में छात्रों को हॉल में सोशल डिस्टेंसिंग में बैठाया गया। लखनऊ के एक स्कूल में इस तरह बैठाए गए छात्र।
पंजाब में सिर्फ इन छात्रों को अनुमति
पंजाब में भी सोमवार से स्कूल खुल गए लेकिन यहां पर सिर्फ 9-12 कक्षा के छात्रों को ही स्कूल आने की अनुमति है। यहां तक कि केवल वही छात्र स्कूल आ सकते हैं जिन्हें अपने संदेह दूर करने की जरूरत है। कक्षा 9 और 10 को 8-11 बजे का स्लॉट आवंटित किया है और कक्षा 11 और 12 को 12-3 बजे का स्लॉट दिया है।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *