स्वामीनारायण मंदिर के ‘संत हरिप्रसाद स्वामी’ अक्षरधाम में हुए लीन

वडोदरा। हरिधाम सोखड़ा स्वामीनारायण मंदिर (Sokhada Swaminarayan Temple) के संत हरिप्रसाद स्वामी जी (Hariprasad Swamiji) अक्षरधाम में लीन हो गए। 88 वर्षीय हरिप्रसाद स्वामीजी ने सोमवार देर रात 11 बजे अपनी अंतिम सांसे ली और अक्षर निवासी हुए। स्वामी जी कई दिनों से बीमार थे, सोमवार को उन्हें वडोदरा के भाईलाल अमीन अस्पताल में ले जाया गया। उनका स्वास्थ्य अधिक बिगड़ने की वजह से उन्हें अस्पताल में भर्ती किया गया लेकिन देर रात 11 बजे स्वामीजी ने अपने प्राणों को त्याग दिया।

इस दुखद समाचार को सुनकर देश-विदेश में हरी भक्तों में शोक का माहोल बना हुआ है।

हरिप्रसाद स्वामी जी का जन्म 23 मई 1934 में हुआ था। वो BAPS (Bochasanwasi Akshar Purushottam Swaminarayan) संप्रदाय के संत प्रमुख स्वामी महाराज के गुरु थे। बीते दिनों 23 मई के दिन हरिप्रसाद स्वामी जी का 88वां जन्मदिवस भक्तों के द्वारा मनाया गया था। वडोदरा समेत देश-विदेश में स्वामी जी के भक्तों की संख्या बहुत ज्यादा है। देश के नेताओं ने स्वामीजी के निधन पर शोक जताया। वडोदरा की सांसद रंजनबेन भट्ट ने भी ट्वीट के जरिए शोक व्यक्त किया।

– एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *