संस्कृति यूनिवर्सिटी के Spark Festival में बही सतरंगी छटा

मथुरा। उच्च शिक्षा के क्षेत्र में अपनी अलग पहचान बना चुकी संस्कृति यूनिवर्सिटी के छात्र-छात्राएं पढ़ाई ही नहीं बल्कि सांस्कृतिक गतिविधियों में भी किसी से कम नहीं हैं, यह बात Spark Festival में साफ-साफ देखी गई। दो दिवसीय Spark Festival में छात्र-छात्राओं ने अपनी मेधा का परिचय देते हुए वक्तव्य कला, टेक्निकल पेपर प्रजेंटेशन, सलाद मेकिंग, नाटक, डांस, ग्रुप डांस आदि में अपनी प्रतिभा का शानदार आगाज किया। इस अवसर पर संस्कृति यूनिवर्सिटी के प्रयासों से निःशुल्क शिक्षा हासिल कर रहे ब्रज मण्डल के नन्हें-मुन्ने दिव्यांग छात्र-छात्राओं ने अपने मनमोहक नृत्य कौशल से हर किसी को तालियां पीटने को मजबूर किया।

संस्कृति यूनिवर्सिटी में शुक्रवार की रात सतरंगी छटा में छात्र-छात्राओं ने अपने लाजवाब अभिनय से हर किसी को मंत्रमुग्ध कर दिया। इस अवसर पर कुलाधिपति सचिन गुप्ता ने कहा कि प्रतिस्पर्धा कोई भी हो, उसमें जीतने से कहीं अधिक सहभागिता महत्वपूर्ण होती है। स्पार्क एक ऐसा मंच है जिसमें छात्र-छात्राएं प्रतिभाग कर अपने आपका मूल्यांकन कर सकते हैं। संस्कृति यूनिवर्सिटी हर छात्र-छात्रा के सम्पूर्ण मानसिक विकास को प्रतिबद्ध है लेकिन इसके लिए आपको स्वयं का श्रेष्ठ प्रोत्साहक बनना होगा। अगर आप स्वयं ऊर्जावान और उत्साहित रहेंगे तो आपको देखकर दूसरे लोग भी उत्साह की कमी नहीं होने देंगे। श्री गुप्ता ने कहा कि आज के समय में हर क्षेत्र में करियर है। सांस्कृतिक गतिविधियों में भी श्रेष्ठता हासिल कर करियर बनाया जा सकता है।

विविध कार्यक्रमों का अवलोकन करने के बाद उप-कुलाधिपति राजेश गुप्ता ने छात्र-छात्राओं से कहा कि हर इंसान में कुछ अलग टैलेंट होता है। इस टैलेंट को प्रदर्शित करने के लिए मंच की जरूरत होती है। संस्कृति यूनिवर्सिटी प्रतिवर्ष स्पार्क महोत्सव के जरिए छात्र-छात्राओं को अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन एवं मूल्यांकन करने को प्रोत्साहित करती है। खुशी की बात है कि इस बार आप लोगों ने बेहतर किया है, हम चाहते हैं कि अगले साल और बेहतर करें।

कुलपति डा. राणा सिंह, डी.जी. विवेक अग्रवाल, ओ.एस.डी. मीनाक्षी शर्मा आदि ने विभिन्न प्रतियोगिताओं के प्रतिभागी छात्र-छात्राओं का उत्साहवर्धन किया। स्पार्क महोत्सव के दूसरे दिन होटल एण्ड टूरिज्म के छात्र-छात्राओं ने जहां पाक कला का नायाब नमूना पेश किया वहीं तकनीकी संकाय के छात्र-छात्राओं ने अपनी बौद्धिक क्षमता का प्रदर्शन करते हुए आधुनिक भारत की एक नई तस्वीर पेश की। छात्र-छात्राओं ने एक से बढ़कर एक तकनीकी मॉडल तैयार कर प्रदर्शित किए।

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *