संस्कृति व‍िव‍ि ने स्किलिंग-यू के साथ MoU साइन किया, छात्रों को लाभ

मथुरा। संस्कृति विश्वविद्यालय एवं स्किलिंग-यू कंपनी के बीच विवि के छात्र-छात्राओं को निशुल्क अंग्रेजी व रोजगार प्रशिक्षण देने का समझौता हुआ है। विश्वविद्यालय की ओर से रजिस्ट्रार पूरन सिंह और स्किलिंग यू कंपनी की ओर से कंपनी के फाउंडर एवं सीईओ प्रवीण कुमार राजभर ने इस एमओयू पर हस्ताक्षर किए। इसका मुख्य उद्देश्य छात्र-छात्राओं का कौशल विकास तथा रोजगार दिलाना है।

इस समझौते के बाद संस्कृति विश्वविद्यालय के पांच हजार से अधिक छात्र-छात्राएं बेधड़क अंग्रेजी बोलने के लिए एक एप निशुल्क मिलेगा। संस्कृति विवि के रजिस्ट्रार पूरन सिंह ने बताया कि विद्यार्थी खाली समय का उपयोग कर अपने उज्ज्वल भविष्य को संवारने के लिए इसका उपयोग कर सकते हैं। इस एप के लिए विद्यार्थियों को कोई अतिरिक्त शुल्क नहीं देना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि आज वैश्विक परिदृश्य में हम अंग्रेजी के महत्व को कम नहीं आंक सकते। भविष्य में राष्ट्रीय व अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर हमारे बच्चे सिर्फ इसलिए पीछे न रह जाएं कि वे अच्छी अंग्रेजी नहीं बोल पाते। विद्यार्थियों की इस कमी को दूर करने के लिए ही विवि प्रशासन ने यह समझौता किया है। कंपनी के सीईओ प्रवीण कुमार राजभर ने बताया कि इस कोर्स के तहत नई दिल्ली की स्किलिंग यू कंपनी द्वारा मोबाइल एप के माध्यम से संस्कृति विवि के विद्यार्थियों को रोजाना प्रयोग में आने वाली अंग्रेजी के बारे में जानकारी दी जाएगी। विद्यार्थियों के व्यक्तित्व विकास पर काम किया जाएगा तथा विद्यार्थियों का इंटरव्यू स्किल, कम्युनिकेशन स्किल एवं व्यक्तित्व विकास के क्षेत्र में मार्गदर्शन किया जाएगा।

राजभर ने बताया कि अंग्रेजी कोर्स करने के बाद टीचिंग, जर्नलिज्म, रिसर्च, ट्रांसलेशन के अलावा कंटेंट राइटिंग के क्षेत्र में भी विद्यार्थी अपना भविष्य बना सकेंगे। पाठ्यक्रम के दौरान विद्यार्थियों को अंग्रेजी बोलना, पढ़ना और लिखना सिखाया जाएगा। यह पाठ्यक्रम संस्कृति विवि में एडमिशन लेने वाले हर विद्यार्थी को निशुल्क उपलब्ध कराया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *