संस्कृति विवि ने आमंत्रित किए आइडिया, मिलेगा पुरुस्कार

मथुरा। वे लोग जो कुछ नया करने का जज्बा रखते हैं, उनके लिए संस्कृति विश्वविद्याल एक बड़ा मौका उपलब्ध करा रहा है। कोई आइडि‍या जो आपको लगता है देश को आत्मनिर्भर बनाने में बड़ा योगदान दे सकता है, उसको विश्वविद्यालय आमंत्रित कर रहा है। बस इसके लिए विश्वविद्यालय की वेबसाइट www.sanskriti.edu.in पर जाकर एक फॉर्म भरना है और इसके बाद आपका आइडिया देशभर से आने वाले तमाम आइडिया स्टोर में शामिल हो जाएगा। इनमें से बेहतरीन 10 आइडिया को विश्वविद्यालय द्वारा 50, 25 व 10 हजार रुपये के पुरुस्कारों से पुरस्कृत किया जाएगा। इस आमंत्रण में शामिल होने वाले सभी प्रतिभागियों को प्रमाणपत्र दिए जाएंगे।

संस्कृति विवि के कुलपति प्रोफेसर सीएस दुबे ने बताया कि चयनित चुनिंदा आइडिया पर संस्कृति विवि नए स्टार्टअप के रूप में काम करेगा। उन्होंने बताया कि महत्वपूर्ण बात यह है कि यह आइडिया देने वाला स्कूल का विद्यार्थी भी हो सकता और कॉलेज में पढ़ने वाला ग्रेजुएट भी। इतना ही नहीं स्कूल, कालेज से परे भी साधारण व्यक्ति भी अपना आइडिया विवि की वेबसाइट पर दे सकता है। यानी की कोई भी व्यक्ति इसमें भाग ले सकता है, जिसके पास तरक्की का कोई आइडिया है तो।

इस ‘आई टू आई कान्टेस्ट’ में ’इनविटेशन टू इन्नोवेशन’ योजना के तहत विश्वविद्यालय आत्मनिर्भर भारत के सपने को साकार करने में जन सहभागिता चाहता है। उन्होंने कहा भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का भारत को आत्मनिर्भर बनाने के लिए निरंतर प्रयास किए जा रहे हैं। विश्वविद्यालय के कुलाधिपति सचिन गुप्ता की प्रेरणा पर मोदीजी के सपने को साकार करने के लिए विवि द्वारा निरंतर प्रयास किए जा रहे हैं।

प्रोफेसर दुबे ने बताया कि नई शिक्षा नीति जिसका उद्देश्य ही भारत के नौजवानों, विद्यार्थियों को शिक्षा के साथ अपने पैरों पर खड़ा करने का है, पूरी तरह से संस्कृति विश्वविद्यालय के पाठ्यक्रमों में लागू कर दी गई है। उन्होंने कहा कि इस आमंत्रण कांटेस्ट से जो बेहतर आइडिया होंगे उनपर स्टार्टअप के रूप में विवि काम करेगा। आइडिया को मूर्त रूप देने के लिए विवि हर तरह का सहयोग करेगा और सरकारी सहयोग के लिए अपने संसाधनों का उपयोग करेगा।
– Legend News

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *