संस्कृति आयुर्वेद कालेज में स्वास्थ्य जागरूकता अभियान शुरू

मथुरा। संस्कृति आयुर्वेदिक मेडिकल कालेज एवं अस्पताल द्वारा अपनी समाज के प्रति जिम्मेदारी का निर्वहन करते हुए ‘आयु संवाद’ के बैनर तले जनजागरूकता अभियान शुरू किया है। संस्कृति आयुर्वेद कालेज के चिकित्सकों ने अभियान के पहले दिन सीएसआरबी विद्याश्रम चौमुहां में लगाए गए शिविर में विद्यार्थियों और शिक्षकों को आयुर्वेद के महत्व और कोविड-19 से बचाव के उपाय बताए गए।

संस्कृति आयुर्वेद अस्पताल की डाॅ. दीपा ने बच्चों को बताया कि कोरोना क्या है और किस तरह से हमारे शरीर में फैलता है। उन्होंने बताया कि इस महामारी से बचने का सर्वश्रेष्ठ तरीका इससे बचाव ही है, इसलिए मास्क पहनना, दूरी बनाकर रखना बहुत आवश्यक है। डाॅ. दीपा ने कोरोना से बचाव के लिए आयुर्वेदिक जड़ी-बूटियों के असरकारी प्रभाव के बारे में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने बताया कि आज सारा विश्व आयुर्वेद के महत्व को स्वीकार कर चुका है। डाॅ. दीपा ने शिविर में उपस्थित शिक्षकों और विद्यार्थियों को बताया कि वे किस प्रकार अपनी नाक और गले को स्वस्थ रखकर कोरोना वाइरस से अपना बचाव कर सकते हैं।

शिविर में संस्कृति आयुर्वेद कालेज के चिकित्सक डाॅ. जगदीश गहलौत ने शिक्षिकों और विद्यार्थियों को आयुष क्वाथ (काढ़ा) बनाने की विधि बताते हुए कहा कि चार भाग तुलसी, दो भाग कालीमिर्च, दो भाग सौंठ, दो भाग दालचीनी को साथ में कूटकर यह घर में ही तैयार किया जा सकता है। इसका दिन में दो बार गर्म पानी से सेवन किया जाना चाहिए। इसके अलावा उन्होंने नस्य, गरारे की विधि बताते हुए कहा कि इस तरह से हम अपने नाक गले को स्वस्थ रख सकते हैं। डाॅ. सुजीत, डाॅ. राजेश ने आयुर्वेद की अनेक औषधियों के लाभ और उनके प्रयोग के तरीके बताए। शिविर में बच्चों और शिक्षकों ने चिकित्सकों से अनेक सवाल किए, जिनका चिकित्सकों ने संतुष्टिपूर्ण उत्तर दिया। संस्कृति आयुर्वेद कालेज और अस्पताल द्वारा इस मौके पर सबको मास्क भी वितरित किए गए। शिविर में संस्कृति विवि के सुधांशु पाल, राजेश, मोहित, प्रवीन शर्मा आदि का सहयोग भी उल्लेखनीय रहा।

विवि की विशेष कार्याधिकारी श्रीमती मीनाक्षी शर्मा ने अपने संदेश में कहा कि कि इस अभियान के तहत जिले के विभिन्न कालेज, डिग्री कालेज में संस्कृति आर्युवेद कालेज एवं अस्पताल के चिकित्सकों की टीम विद्यार्थियों को स्वस्थ रहने के लिए कैसी दिनचर्या अपनाएं, इसकी जानकारी देंगे। चिकित्सकों द्वारा स्वास्थ्य संबंधी जानकारी के साथ समस्याओं का निवारण भी किया जाएगा। इसके अतिरिक्त चिकित्सकों की टीम रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए काढ़ा बनाने का तरीका, उपयोगी फल, सब्जी के गुणों को भी विस्तार से बताएगी।
– Legend News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *