संस्कृति आयुर्वेद काॅलेज ने RCA, KR कॉलेज में लगाए शिविर

संस्कृति आयुर्वेदिक मेडिकल काॅलेज एवं अस्पताल ने ‘आयु संवाद’ के बैनर तले स्वास्थ्य जन जागरूकता अभियान के तहत RCA गर्ल्स डिग्री कालेज और केआर गर्ल्स डिग्री कालेज में जन जागरूकता शिविर लगाया। संस्कृति आयुर्वेद कालेज के चिकित्सकों ने शिविर में छात्राओं और शिक्षकों को आयुर्वेद के महत्व और कोविड-19 से बचाव के उपाय बताए गए।

संस्कृति आयुर्वेद अस्पताल की डाक्टर दीपा ने बच्चों को बताया कि कोरोना क्या है और किस तरह से हमारे शरीर में फैलता है। उन्होंने बताया कि इस महामारी से बचने का सर्वश्रेष्ठ तरीका इससे बचाव ही है, इसलिए मास्क पहनना, दूरी बनाकर रखना बहुत आवश्यक है। डा. दीपा ने आयुष मंत्रालय द्वारा जारी वीडिओ फिल्म दिखाकर कोरोना से बचाव के लिए आयुर्वेदिक जड़ीबूटियों के असरकारी प्रभाव के बारे में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने बताया कि आज सारा विश्व आयुर्वेद के महत्व को स्वीकार कर चुका है। डा. दीपा ने शिविर में उपस्थित शिक्षकों और विद्यार्थियों को बताया कि वे किस प्रकार अपनी नाक और गले को स्वस्थ रखकर कोरोना वाइरस से अपना बचाव कर सकते हैं।

शिविर में संस्कृति आयुर्वेद कालेज के चिकित्सक डा. एकता कपूर ने शिक्षिकों और विद्यार्थियों को आयुष क्वाथ (काढ़ा) बनाने की विधि बताते हुए कहा कि चार भाग तुलसी, दो भाग कालीमिर्च, दो भाग सौंठ, दो भाग दालचीनी को साथ में कूटकर यह घर में ही तैयार किया जा सकता है। इसका दिन में दो बार गर्म पानी से सेवन किया जाना चाहिए। इसके अलावा उन्होंने नस्य, गरारे की विधि बताते हुए कहा कि इस तरह से हम अपने नाक गले को स्वस्थ रख सकते हैं। डा. एकता ने पीपीटी के माध्यम से आयुर्वेद की अनेक औषधियों के लाभ और उनके प्रयोग के तरीके बताए। शिविर में बच्चों और शिक्षकों ने चिकित्सकों से अनेक सवाल किए, जिनका चिकित्सकों ने संतुष्टिपूर्ण उत्तर दिया। संस्कृति आयुर्वेद कालेज और अस्पताल द्वारा इस मौके पर सबको मास्क भी वितरित किए गए। शिविर में संस्कृति विवि के विजय सक्सेना, सुधांशु पाल, राजेश, मोहित, प्रवीन शर्मा आदि का सहयोग भी उल्लेखनीय रहा।

केआर डिग्री गर्ल्स कालेज में प्रधानाचार्या ने संस्कृति आयुर्वेद कालेज के चिकित्सकों का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि छात्राएं इन उपयोगी जानकारियों का स्वयं तो लाभ उठाएं ही साथ ही घर जाकर सभी से इन जानकारियों को साझा करें। इस मौके पर केआर गर्ल्स डिग्री कालेज की प्रधानाचार्या डा. वंदना सारस्वत, वरिष्ठ शिक्षिका डा. पल्लवी सिंह ने संस्कृति आयुर्वेद कालेज के दल के प्रति आभार व्यक्त किया। इसी क्रम में आरसीए गर्ल्स डिग्री कालेज की प्रधानाचार्या डा. प्रीति जौहरी ने संस्कृति आयुर्वेद कालेज के चिकित्सकों की टीम का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि हमने कोरोना की पहली लहर का सावधानी बरतकर सफलतापूर्वक मुकाबला किया और अब इस दूसरी लहर को भी पराजित करेंगे। इस मौके पर आरसीए गर्ल्स डिग्री कालेज के प्रबंधक आरसी मित्तल ने एक संदेश जारी कर इस उपयोगी आयोजन की सराहना की। शिविरों में संस्कृति आयुर्वेद कालेज और अस्पताल की ओर से सबको मास्क भी वितरित किए गए।अ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *