संजय राउत का दावा: अंडरवर्ल्ड डॉन करीम लाला से मिलने उसके घर जाती थीं पूर्व पीएम इंदिरा

पुणे। शिवसेना प्रवक्ता संजय राउत ने आज दावा किया कि पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी अंडरवर्ल्ड के डॉन करीम लाला से मिलती थीं।
संजय राउत ने ये भी कहा कि वो खुद दाऊद इब्राहिम से मिले हैं।
इतना ही नहीं, उन्होंने कहा कि मैंने 1993 मुंबई सीरियल धमाके में प्रमुख आरोपी दाऊद इब्राहिम से भी मुलाकात की थी और उसे लताड़ लगाई थी।
संजय राउत ने कहा कि अगर आपमें हिम्मत है तो कोई भी आपकी तरफ नहीं देख सकता है। चाहे वह प्रधानमंत्री हो या गृह मंत्री। मैं किसी से नहीं डरता।
‘करीम लाला से मिलती थीं इंदिरा गांधी’
एक मराठी अखबार को दिए इंटरव्यू में शिवसेना सांसद ने दावा किया कि पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी मुंबई में डॉन करीम लाला से मिलने आया करती थीं। 1960 से 1980 के बीच करीम लाला का मुंबई में अवैध शराब, जुए और फिरौती का धंधा चलता था। अपने पत्रकारिता के दिनों को याद करते हुए राउत ने कहा दाऊद इब्राहिम, छोटा शकील और शरद शेट्टी जैसे गैंगस्टर उन दिनों मुंबई और उसके आसपास के इलाकों को कंट्रोल करते थे। वे ही तय करते थे कि मुंबई का पुलिस कमिश्नर कौन होगा और कौन मंत्रालय में बैठेगा। जब हाजी मस्तान ‘मंत्रालय’ में आया करता था तो सभी उसे देखने के लिए नीचे आते थे। हालांकि, शिवसेना सांसद ने आगे कहा कि अब सभी डॉन देश छोड़ कर भाग चुके हैं।
पवार की तारीफ की
राउत ने एनसीपी प्रमुख शरद पवार की जमकर तारीफ की और कांग्रेस नेता राहुल गांधी को नसीहत दी। राउत ने शरद पवार को जाणता राजा करार देते हुए कहा कि महाराष्ट्र की जनता ने भी उन्हें यही नाम दिया है। उन्होंने भाजपा नेता और छत्रपति शिवाजी महाराज के वंशज उदयनराजे भोसले पर तंज कसते हुए कहा- वह सबूत दें कि वो छत्रपति शिवाजी के वंशज हैं। उन्होंने कहा कि मराठा वीर शिवाजी पर किसी का एकाधिकार नहीं है। शिवाजी महाराज एक भगवान की तरह थे और उनकी पूजा करने के लिए किसी से इजाजत लेने की जरूरत नहीं है।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *