संबित ने राहुल को बताया कि Galwan घाटी में जो हुआ, उसका कौन है जिम्‍मेदार

नई दिल्‍ली। भारत-चीन सीमा पर Galwan घाटी में शहीद 20 सैनिकों को देश जहां नम आंखो से विदाई दे रहा है, वहीं दूसरी तरफ दिल्ली में इस पर जमकर सियासत चल रही है।
कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर एक बार हमला बोलते हुए सवाल किया कि लद्दाख Galwan घाटी में जवानों की शहादत की जिम्मेदार कौन है।
इसके ठीक बाद बीजेपी ने राहुल पर पलटवार किया कि राहुल गांधी इस मौके पर जिम्मेदारी नहीं दिखा रहे हैं। उन्हें सेना पर यकीन नहीं है। बीजेपी ने कहा कि राहुल को देश को गुमराह करने की राजनीति से बाज आना चाहिए।
शहादत के लिए कौन जिम्मेदार?
राहुल ने ट्विटर पर एक 18 सेकेंड का वीडियो जारी कर कहा, चीन ने हिंदुस्तान के निहत्थे सैनिकों की हत्या करके एक बहुत बड़ा अपराध किया है। मैं पूछना चाहता हूं कि इन वीरों को Galwan घाटी में मेंं बिना हथियार खतरे की ओर किसने भेजा और क्यूं भेजा।
कौन जिम्मेदार है?’
बता दें कि राहुल ने कल भी ट्वीट कर पूछा था कि लद्दाख सीमा पर क्या चल रहा है, इसके बारे में केंद्र को बताना चाहिए।
कांग्रेस के प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने पीएम नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है। सुरजेवाला ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को देश को विश्वास में लेना चाहिए। चुप्पी से काम नहीं चलेगा। गौरतलब है कि पीएम मोदी ने बुधवार को देश के 15 मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक में कहा था कि देश के शहीदों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा। उन्होंने कहा कि हमारे जवान मारते-मारते मरे हैं। उन्होंने कहा कि हमारे सपूतों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा। पीएम ने कहा कि शहीद जवानों के परिजनों के साथ आज पूरा देश साथ खड़ा है। भारत एक-एक इंच अपनी जमीन की रक्षा करेगा।
बीजेपी का राहुल पर पलटवार
बीजेपी नेता संबित पात्रा ने राहुल के वीडियो पर पलटवार किया है। उन्होंने राहुल पर निशाना साधते कहा कि राहुल को कांग्रेस काल में चीन के साथ हुए समझौतों के बारे में पढ़ने की नसीहत दे दी। उन्होंने 1996 में हुए चीन के साथ समझौते का जिकर करते हुए कहा, ‘अगर आप पढ़े लिखे नहीं है, जानकारी नहीं है। घर में बैठकर लॉकडाउन का इस्तेमाल करते हुए कुछ किताबें पढ़नी चाहिए थी। चीन के साथ कांग्रेस के शासन काल में क्या-क्या समझौते हुए थे, यह आपको पढ़ लेना चाहिए था।’
पात्रा बोले, सर्वदलीय बैठक का करना चाहिए था इंतजार
पात्रा ने कहा कि कल चीन मसले पर सर्वदलीय बैठक है, ऐसे में राहुल को इंतजार करना चाहिए था। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी को ट्वीट कर बताना चाहिए कि उन्हें अगर पीएम, सेना पर भरोसा नहीं है तो किस पर भोरोसा है। राहुल को अपनी प्रापगैंडा की राजनीतिक को तुरंत बंद करनी चाहिए। वरना हिंदुस्तान उनको माफ नहीं करेगा।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *