रूस का दावा, हमारे नए हथियारों में किसी भी मिसाइल डिफेंस सिस्टम को भेदने का माद्दा

मॉस्को। रूस के अधिकारियों का दावा है कि उसके नए रणनीतिक हथियार दुनिया के किसी भी मिसाइल डिफेंस सिस्टम को भेदने का माद्दा रखते हैं।
रूस के डेप्युटी पीएम युरी बोरीसोव ने सरकारी टीवी को बताया कि अवानगार्द हाइपरसोनिक ग्वाइड वीइकल ध्वनि की गति से 27 गुना तेज है जिस वजह से उसे इंटरसेप्ट करना नामुमकिन होगा।
रूस ने बुधवार को हाइपरसोनिक मिसाइल का सफल परीक्षण किया था। उसका दावा है कि यह आवाज की गति से 27 गुना तेज है और इसे इंटरसेप्ट नहीं किया जा सकेगा। मॉस्को का दावा है कि यह अमेरिकी रक्षा बलों के लिए ‘अभेद्य’ है।
बोरीसोव ने कहा कि नए हथियार ‘मिसाइल डिफेंस सिस्टम को बेकार’ बना देंगे। उनका यह बयान राष्ट्रपति पुतिन की निगरानी में अवानगार्द के सफल परीक्षण के एक दिन बाद आया है। हाइपरसोनिक मिसाइल के परीक्षण के बाद पुतिन ने कहा कि रूस नए तरह के रणनीतिक हथियारों को बनाने वाला दुनिया का पहला देश बन गया है और यह देश की सुरक्षा को अभेद्य बनाएगा।
मॉस्को का दावा है कि यह अमेरिकी रक्षा बलों के लिए ‘अभेद्य’ है। सरकार के स्वामित्व वाली तास समाचार सेवा की रिपोर्ट के मुताबिक, पुतिन ने बुधवार को कहा कि अवानगार्द हाइपरसोनिक प्रणाली का परीक्षण दक्षिण पश्चिम रूस में डोम्बारोवस्की सैन्य अड्डे पर किया गया। उन्होंने कहा, ‘अगले साल से शुरू होने वाली नई अंतरमहाद्वीपीय रणनीतिक प्रणाली अवानगार्द रूसी सेना की सेवा में प्रवेश करेगी और स्ट्रैटिजिक मिसाइल ट्रूप्स की पहली रेजिमेंट को तैनात किया जाएगा।’
पुतिन ने कहा, ‘रूस नए तरह के रणनीतिक हथियारों को हासिल करने वाला विश्व का पहला देश है और यह दशकों तक हमारे देश और हमारे लोगों की सुरक्षा को मजबूती से सुनिश्चित करेगा।’ तास ने रिपोर्ट में कहा, ‘यह मिसाइल प्रणाली अपने लक्ष्य पर करीबी नजर रखने के साथ-साथ मिसाइल विरोधी रक्षा बलों को छकाने का माद्दा रखती है और अधिक इंटरसेप्टरों से बचने के लिए कम ऊंचाई पर उड़ सकती है।’ पुतिन ने कहा, ‘यह वास्तव में अभेद्य होगी।’
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *