ऐलान: रूस देगा पीएम Modi को अपना सर्वोच्च नागरिक सम्मान

रामपुर। प्रधानमंत्री नरेंद्र Modi के दुनिया के महत्वपूर्ण देशों के सर्वोच्च नागरिक सम्मान का सिलसिला लगातार बढ़ता जा रहा है। इसी क्रम में रूस ने पीएम Modi को अपना सर्वोच्च नागरिक सम्मान ‘ऑर्डर ऑफ सेंट एंड्रयू द अपोस्टल’ देने का ऐलान किया। Modi ने इस फैसले के लिए रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन और रूस की जनता का आभार जताया। रूस के पोर्ट टाउन व्लादिवोस्तोक में दोनों देशों के डेलिगेशन के बीच संपन्न हुए 20वें राष्ट्रीय सम्मेलन के बाद मोदी ने दोनों देशों के बीच ऐतिहासिक मैत्रीपूर्ण संबंधों का जिक्र किया।
रूस का सर्वोच्च नागरिक सम्मान मिलना गौरव की बात: Modi
प्रधानंत्री ने कहा, ‘आपने (पुतिन ने) अपेन देश का सबसे बड़ा नागरिक सम्मान देने का फैसला किया। इसके लिए हम आपका और रूस के लोगों के आभारी हैं। यह दोनों देशों के बीच विशेष मैत्रीपूर्ण संबंधों को दर्शाता है। यह 1 अरब 30 करोड़ भारतीयों के लिए बहुत सम्मान का विषय है।’ Modi ने आगे कहा, ‘रूस भारत का अभिन्न मित्र और विश्वसनीय साझेदार है। हमारी स्पेशल और प्रिविलेज्ड पार्टनरशिप का विस्तार करने पर आपने व्यक्तिगत ध्यान दिया है। दो अभिन्न मित्रों के रूप में हमारी आपसे कई मुलाकातें हुई हैं। मैंने आपसे टेलिफोन पर कई मामलों पर चर्चा की है। मुझे कभी कोई झिझक नहीं हुई।’
हमारी मुलाकातें ऐतिहासिक महत्व की: Modi
प्रधानमंत्री ने पुतिन को अपना अभिन्न मित्र बताते हुए कहा कि ईस्टर्न इकनॉमिक फोरम के लिए उनसे मिला निमंत्रण बेहद सम्मान का विषय है। मोदी ने कहा कि दोनों देशों के बीच सहयोग को नया आयाम देने के लिए यह एक नया ऐतिहासिक अवसर है। Modi ने कहा, ‘आज की हमारी मुलाकातें बहुत महत्वपूर्ण हैं और इनका ऐतिहासिक महत्व भी है। दोनों देशों के बीच यह 20वां वार्षिक सम्मेलन है। पिछले 20 वर्षों में इस व्यवस्था ने हमारे संबंधों को 21वीं सदी के अनुरूप ढाला है और उन्हें हमारे लिए ही नहीं, विश्व के लिए शांति, प्रगति और स्थायित्व का एक विशेष कारक बनाया है।’
दो घंटे के साथ में कई विषयों पर चर्चा: Modi
प्रधानमंत्री ने विभिन्न क्षेत्रों में भारत और रूस के बीच साझेदारी की चर्चा करते हुए कहा कि आज हमारे बीच डिफेंस, न्यूक्लियर एनर्जी, स्पेस, बिजनेस टु बिजनेस समेत कई क्षेत्रों में सहयोग को नई ऊंचाइयों तक पहुंचाने के लिए सहमति बनी है। उन्होंने कहा, ‘आज भी करीब दो घंटे हम लोगों को साथ रहने का मौका मिला। आपने कई महत्वपूर्ण विषयों से अवगत कराया। हमने दो घंटे आपके साथ बिताया। आपकी दूरदृष्टि, आपका विजन, इस क्षेत्र के विकास के प्रति आपका संकल्प देखा।’ मोदी ने कहा कि रूस के खूबसूरत शहर व्लादिवोस्तोक में आकर उन्हें बहुत खुशी हुई। उन्होंने कहा कि रूस के सूदूर पूर्व क्षेत्र की यह उनकी पहली यात्रा है। वह फार ईस्ट यूनिवर्सिटी में अत्याधुनिक बुनियादी ढांचे से अत्यंत प्रभावित हुए।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *