बिहार में RJD ने बजाई थाली, तो JDU ने ठोकी ताली

पटना। बिहार में आज बीजेपी की वर्चुअल रैली के खिलाफ राजद ने थाली पीटो अभियान शुरू कर दिया है। 10 सर्कुलर रोड से राबड़ी ने तेजस्वी-तेजप्रताप और RJD कार्यकर्ताओं के साथ थाली बजाई। इसका जवाब JDU ने ताली बजाकर दिया है।
राबड़ी आवास के बाहर सरकार के विरोध में राबड़ी देवी, तेजस्वी यादव और तेजप्रताप यादव ने थाली बजाकर नीतीश सरकार के साथ केंद्र सरकार और अमित शाह की वर्चुअल रैली का विरोध किया। थाली बजाने के लिए राबड़ी आवास के बाहर गोल घेरा बनाया गया था। RJD के सभी लोग इसी घेरे में खड़े होकर थाली बजाने का काम कर रहे थे।
कोरोना काल में प्रवासी मजदूरों को हुई परेशानी और अमित शाह के वर्चुअल रैली के विरोध में RJD ने थाली बजाकर प्रतिकार किया।
बता दें कि आज RJD ने गरीब अधिकार दिवस मनाने का फैसला लिया था। पहले यह आयोजन 9 जून को आयोजित था लेकिन अमित शाह की रैली की की वजह से कार्यक्रम को 7 जून को आयोजित किया गया। नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने अपनी पार्टी के विधायकों के साथ ताली बजाकर सरकार के खिलाफ अपना गुस्सा जाहिर किया है। पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी के आवास के बाहर तेजस्वी यादव और उनकी पार्टी के नेता इकट्ठा हुए और उन्होंने थाली बजाई।
JDU ने RJD को दिया ताली से जवाब
सत्ताधारी JDU ने राजद के थाली पीटो अभियान का जवाब ताली बजाकर दिया है। इसका नेतृत्व बिहार सरकार के मंत्री नीरज कुमार ने खुद किया। उनके आवास पर JDU कार्यकर्ताओं ने RJD को जवाब देने के लिए तालियां बजाईं।
तेजस्वी का आरोप
तेजस्वी यादव ने कहा कि डबल इंजन की सरकार ने गरीबों को परेशान किया है। श्रमिकों के साथ जिस तरह का व्यवहार हो रहा है वह चिंताजनक है। ‘मैं पूछना चाहता हूं कि आप प्रवासियों को कहां से रोजगार देंगे। डेढ़ करोड लोग घर लौटे हैं। अमित शाह और नीतीश कुमार से पूछना चाहता हूं कि क्या घर लौटे लोग चोर हैं। नीतीश कुमार को श्रमिकों से माफी मांगनी चाहिए। वह पत्र बताता है कि नीतीश कुमार के डीएनए में खोट है।’
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *