BSF जवान की शहादत का बदला: मार गिराए 11 पाकिस्‍तानी सैनिक

भारत ने जम्मू इलाके में पाकिस्तान द्वारा BSF के हेड कांस्टेबल नरेंद्र कुमार के साथ की गई बर्बरता का बदला ले लिया है।
खबरों के मुताबिक भारत ने सीमा पर पाकिस्तान के खिलाफ एक बड़ी कार्यवाही की है। बताया जाता है कि भारत के मुंहतोड़ जवाब में पाकिस्तानी सेना और रेंजर्स के 11 जवान मारे गए हैं। गृहमंत्री राजनाथ सिंह और BSF के महानिदेशक के के शर्मा ने इसकी पुष्टि की है। साथ ही पाकिस्तान के खिलाफ और बड़ी कार्यवाही के संकेत दिए हैं।
BSF के महानिदेशक के के शर्मा ने कहा कि नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर दो दिन पहले हुई इस पहली जवाबी कार्यवाही के बाद पाकिस्तानी सेना और पाक रेंजर्स के खिलाफ अगली कार्यवाही की भी पूरी तैयारी है। राजनाथ सिंह ने मुजफ्फरनगर में कहा कि सेना और बीएसएफ को अपनी जरूरत के मुताबिक सीमा पर कार्यवाही की छूट है।
शर्मा ने शुक्रवार को बताया कि दो दिन पहले एलओसी पर बीएसएफ ने सेना की मदद से भीषण कार्यवाही की है। इसमें पाकिस्तानी सेना और रेंजर्स के कम से कम 11 जवान मार गिराए गए। गृहमंत्री ने कहा कि सेना को निर्देश दिया गया है कि पहले अपनी तरफ से गोली मत चलाना। दूसरी तरफ से गोली आए तो जवाब में अपनी गोलियों की संख्या मत गिनना।
बड़ी कार्यवाही की तैयारी : के के शर्मा के मुताबिक 19 सितंबर की घटना के बाद बीएसएफ की जवाबी कार्यवाही के डर से पाकिस्तानी सेना ने आईबी पर अपनी सीमा के पांच किमी का इलाका खाली कर दिया था। इससे बीएसएफ आईबी पर कोई कार्यवाही नहीं कर पा रही है। पाक सेना और रेंजर्स के खिलाफ आने वाले दिनों में एक बड़ी कार्यवाही की तैयारी है।
आतंकियों के ट्रेनिंग कैंप और लांचिंग पैड : के के शर्मा ने बताया कि अंतर्राष्ट्रीय सीमा पर दर्जनों पाकिस्तानी आतंकियों के ट्रेनिंग कैंप और लांचिंग पैड काम कर रहे हैं। इनमें से कुछ तो सीमा से सिर्फ पांच से सात किलोमीटर पर हैं। यहां आतंकियों को ट्रेनिंग दी जाती है। पाकिस्तानी सेना की मदद से ये आतंकी भारत में घुसपैठ करते हैं।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *