पोस्‍टमॉर्टम रिपोर्ट में खुलासा: गोली लगने से हुई Apple के मैनेजर की मौत

लखनऊ। यूपी की राजधानी लखनऊ में पुलिस कॉन्स्टेबल की गोली से अमेरिकी मल्टिनेशनल कंपनी Apple के एक मैनेजर विवेक तिवारी की मौत के मामले में बड़ा खुलासा हुआ है। मृतक के पोस्‍टमॉर्टम रिपोर्ट में सामने आया है कि उनको बिल्‍कुल पास से गोली मारी गई थी। Apple के मैनेजर विवेक तिवारी के सिर में गोली मिली है।
पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में विवेक के सिर में बुलेट इंजरी पाई गई है। रिपोर्ट के मुताबिक उनके सिर में काफी करीब से गोली मारी गई थी। इस मामले में दो आरोपी कॉन्स्टेबल प्रशांत चौधरी और संदीप को गिरफ्तार किया जा चुका है। इस बीच घटना पर सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने सख्‍त रुख अपनाते हुए डीजीपी ओपी सिंह से बात की है और दोषियों के खिलाफ सख्‍त कार्यवाही के निर्देश दिए हैं।
‘कान के पास बाईं तरफ लगी थी गोली’
डॉ. राम मनोहर लोहिया अस्पताल के डायरेक्टर देवेंद्र सिंह नेगी का कहना है कि विवेक तिवारी को गोली लगने के बाद इलाज के लिए लाया गया था। उन्होंने बताया, ‘विवेक तिवारी के कान के पास बाईं तरफ बुलेट इंजरी थी। इलाज के दौरान उन्होंने दम तोड़ दिया। उनके शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया है।’
अस्पताल के डायरेक्टर ने साथ ही जानकारी दी है कि इस घटना में शामिल दो पुलिसकर्मियों को सुबह 9 बजे अस्पताल लाया गया था। उनका एक डॉक्टर द्वारा परीक्षण किया गया है। उनकी ऐक्स-रे रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है।
अपराध हुआ है एनकाउंटर नहीं: ADG
उधर एडीजी कानून व्‍यवस्‍था आनंद कुमार ने कहा, ‘हमने इसे हत्‍या का मामला मानते हुए केस दर्ज किया है। दो सिपाहियों को अरेस्‍ट कर लिया है और उन्‍हें जेल भेजने की कार्यवाही हो रही है। इस पूरे मामले को हम हत्‍या का मामला मान रहे हैं।’ उन्‍होंने कहा कि कॉन्‍स्‍टेबल की गलती है। घटना को देखकर लग रहा है कि गोली चलाने वाले हालात नहीं थे। एडीजी ने साथ ही कहा कि अपराध हुआ है, पर यह एनकाउंटर नहीं है।
चरित्र हनन के सवाल पर आनंद कुमार ने कहा, ‘मृतक का चरित्र हनन करने की कोई बात नहीं है। एसएसपी ने भी ऐसा कोई बयान नहीं दिया है। अगर किसी ने मृतक की पत्‍नी के चरित्र हनन की बात कही है तो मैं उनसे माफी मांगता हूं। पोस्‍टमॉर्टम रिपोर्ट के आधार पर आगे की कार्यवाही होगी।’ इससे पहले मृतक की पत्‍नी कल्पना तिवारी ने कहा था कि पुलिस ने उन्‍हें बताया था कि उनके पति संदिग्‍ध हालत में लड़की के साथ थे।
उधर, राज्‍य के डेप्‍युटी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने भी कहा है कि जांच जारी है और अगर पुलिसकर्मियों को हत्‍या का दोषी पाया गया तो उनके खिलाफ सख्‍त कार्यवाही होगी। बता दें कि मृतक की पत्नी ने पुलिस पर सवाल उठाते हुए इस मामले को मर्डर करार दिया है। विवेक की पत्नी कल्पना तिवारी ने कहा, ‘पुलिस को मेरे पति को गोली मारने का अधिकार नहीं था, मैं यूपी के सीएम से मांग करती हूं कि वह आकर मेरी बात सुनें।’
मृतक विवेक के साले विष्‍णु शुक्‍ला ने कहा, ‘क्‍या वह एक आतंकवादी थे जो उन्‍हें गोली मार दिया गया ? हमने योगी आदित्‍यनाथ को अपना प्रतिनिधि चुना, हम चाहते हैं कि इस पूरे मामले की निष्‍पक्ष तरीके से सीबीआई जांच हो। आपको बता दें कि अस्पताल में इलाज के दौरान विवेक की मौत हो गई थी और अब पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है। एसएसपी लखनऊ ने इस बात की पुष्टि की है कि आरोपी कॉन्स्टेबल को गिरफ्तार कर लिया गया है।
‘कॉन्स्टेबल ने गले में मारी गोली’
लखनऊ के एसएसपी कलानिधि नैथानी ने बताया कि गोमतीनगर थाने में आईपीसी की धारा 302 के तहत हत्या का मामला दर्ज कर लिया गया है। उन्होंने कहा, ‘शिकायतकर्ता सना खान ने बताया है कि शुक्रवार रात वह अपने कलीग विवेक तिवारी के साथ घर जा रही थीं। सीएमएस गोमतीनगर विस्तार के पास उनकी गाड़ी खड़ी थी, तभी सामने से दो पुलिसवाले आए और इन्होंने बचकर निकलने की कोशिश की।’ वहीं, घटना के वक्त विवेक के साथ गाड़ी में मौजूद सहकर्मी सना का आरोप है कि कॉन्स्टेबल ने बाइक दौड़ाकर विवेक के गले में गोली मारी। सना की शिकायत पर ही हत्या का मामला दर्ज किया गया है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *