विकास दुबे के गुर्गे का खुलासा, दबिश का फोन आने के बाद बुलाए 25-30 लोग

कानपुर। कानपुर में पुलिस टीम पर हुए हमले के आरोपी विकास दुबे के एक गुर्गे को रविवार सुबह गिरफ्तार किया गया है। गिरफ्तार किए गए दयाशंकर अग्निहोत्री नाम के इस शख्स ने विकास दुबे के घर से हुए हमले को लेकर कई बड़े खुलासे किए हैं। गिरफ्तार दयाशंकर अग्निहोत्री ने पुलिस से शुरुआती पूछताछ में बताया है कि विकास को फोन आने के बाद बाहर से 25-30 लोगों को बुलाया गया था।
पुलिस की शुरुआती पूछताछ में दयाशंकर ने बताया है कि विकास दुबे को किसी का फोन आने के बाद वह सक्रिय हो गया था। उसने फोन कर 25-30 लोगों को अपने घर बुलाया था। इसके अलावा रास्ते पर जेसीबी खड़ी कर पुलिस टीम का रास्ता रोकने का प्लान बनाया गया था।
विकास ने खुद की थी फायरिंग
विकास दुबे और इसके ये सभी साथी घात लगाकर गांव में बैठे थे और पुलिस टीम के यहां पहुंचने के बाद विकास ने खुद भी उन पर फायरिंग की थी। पुलिस टीम दयाशंकर की इस जानकारी के बाद उन लोगों का पता लगाने की कोशिश कर रही है, जिन्हें कि उस रात विकरू गांव से फोन किया गया था। इसके अलावा तमाम ऐसे अभियुक्तों पर भी नजर रखी जा रही है, जिन्हें विकास दुबे के ठिकानों की जानकारी हो।
विकास और गैंग कैसे भागे, इसकी पड़ताल?
बताया जा रहा है कि एसटीएफ की तमाम टीमों ने सेंट्रल यूपी और वेस्ट यूपी के जिलों में डेरा डालकर विकास की तलाश शुरू की है। इस मामले में पुलिस के साथ-साथ खुफिया तंत्र को भी सक्रिय किया गया है। घटना के बाद विकास और उसके साथ कैसे भागे, इसे लेकर भी पुलिस अधिकारी गिरफ्तार दयाशंकर से कड़ी पूछताछ कर रहे हैं।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *