MLC चुनाव से पहले सेवानिवृत्त IAS अधिकारी अरविंद शर्मा भाजपा में शामिल

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के सेवानिवृत्त आईएएस अधिकारी अरविंद शर्मा ने आज गुरुवार को लखनऊ में भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता ग्रहण की। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने उन्हें सदस्यता ग्रहण कराई।

इस दौरान उप मुख्यमंत्री डॉ दिनेश शर्मा, प्रदेश महामंत्री जेपीएस राठौर, गोविंद शुक्ला, कैबिनेट मंत्री दारा सिंह चौहान भी उपस्थित रहे। अरविंद कुमार मूल रूप से यूपी के मऊ जिले के निवासी हैं।

उन्होंने 20 वर्षों तक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ गुजरात और पीएमओ में काम किया है। उन्होंने आईएएस की सेवा से दो साल पहले ही वीआरएस लिया है।

पार्टी में शामिल होने के बाद अरविंद शर्मा ने कहा कि भाजपा की सदस्यता ग्रहण करने की खुशी है।

ऐसी अटकलें लगाई जा रही हैं कि 12 एमएलसी सीट पर हो रहे चुनाव में भाजपा के एक उम्मीदवार हो सकते हैं। यही नहीं उन्हें यूपी सरकार के आगामी मंत्रिमंडल विस्तार में बड़ी जिम्मेदारी मिल सकती है। एके शर्मा ने सोमवार को दो साल पहले VRS लिया है।

भाजपा की सदस्यता ग्रहण करने के बाद अरविंद शर्मा ने कहा कि कल रात में ही मुझे पार्टी ज्वाइन करने के लिए कहा गया। मुझे खुशी है कि मुझे मौका मिला, मैं मऊ के एक पिछड़े गांव से निकला हूं, आईएएस बना और आज बिना किसी राजनीतिक बैकग्राउंड के होने के बावजूद भाजपा में शामिल होना बड़ी बात है। पार्टी मुझे जो भी जिम्मेदारी देगी, उसका निर्वाहन करूंगा।

मुझ जैसे साधारण व्यक्ति को जिसकी कोई राजनीतिक पृष्ठभूमि नहीं है उसे भाजपा ही इतना बड़ा मुकाम दे सकती है। उन्होंने कहा कि मैं प्रधानमंत्री के प्रति आभार व्यक्त करता हूं। मैं प्रधानमंत्री और भाजपा की उम्मीदों पर खरा उतरने का प्रयास करूंगा।

पिछले 18 वर्षों से मोदी के भरोसेमंद

‘एके’ के नाम से जाने जाने वाले अरविंद कुमार शर्मा के बारे में मशहूर है कि वे वर्तमान प्रधानमंत्री के सबसे विश्वस्त ब्यूरोक्रेट में एक और पिछले 18 सालों से मोदी के भरोसेमंद हैं। जून 2014 से केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर आने वाले अरविंद कुमार शर्मा प्रधानमंत्री कार्यालय में संयुक्त सचिव के तौर पर नियुक्ति किए गए थे।

2017 में पदोन्नति के साथ वे वर्तमान में प्रधानमंत्री कार्यालय में एडिशनल सेक्रेटरी रह चुके हैं। फेम इंडिया मैगजीन- एशिया पोस्ट के वार्षिक सर्वे ‘असरदार ब्यूरोक्रेट्स- 2019’ में अरविन्द कुमार शर्मा का प्रमुख स्थान रहा था।

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *