रिजर्व बैंक ने SBF खोलने के लिए न्यूनतम पूंजी का प्रस्ताव रखा

मुंबई। रिजर्व बैंक ने स्मॉल फाइनैंस बैंक (SBF) खोलने के लिए न्यूनतम पूंजी का प्रस्ताव रखा है। इसमें कहा गया है कि SFB का लाइसेंस लेने के लिए कम से कम 200 करोड़ की पूंजी होनी चाहिए।
नॉन बैंकिंग फाइनैंस कंपनी (NBFC), माइक्रो फाइनैंस और लोकल एरिया बैंक भी खुद को स्मॉल फाइनैंस बैंक में बदल सकते हैं।
इसमें यह भी कहा गया है कि पब्लिक सेक्टर की इकाइयां और बड़े उद्योगों को यह सुविधा नहीं मिलेगी।
दरअसल, स्मॉल फाइनैंस बैंक SBF कुछ बेसिक बैंकिंग गतिविधियों के लिए होता है। इन बैंकों को पैसे जमा करने और छोटे कारोबार, सीमांत किसान और लघु उद्योगों को कर्ज देने का अधिकार होता है।
इस प्रस्ताव में कहा गया है कि एसबीएफ की मदद से कम लागत में ज्यादा करंसी फ्लो हो सकता है और आसानी से लोग कर्ज ले सकते हैं। आरबीआई ने इस ड्राफ्ट पर 12 अक्टूबर तक प्रतिक्रियाएं मांगी हैं। इसके अलावा SBF के जोखिम को देखते हुए कुल पूंजी का 15 प्रतिशत अपने पास बनाए रखना होगा। जब बैंक की पूंजी 500 करोड़ हो जाएगी तो इसको तीन साल के भीतर लिस्ट कराना अनिवार्य होगा।
इन बैंकों में विदेशी शेयरधारक उसी तरह शामिल होंगे जैसे निजी बैंकों में शामिल होते हैं और एफडीआई पॉलिसी का इस्तेमाल किया जाएगा। आरबीआई ने एसबीएफ की शुरुआत 2014 में की थी। पहले इसके लिए 10 बैंकों को लाइसेंस दिया गया था।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *