हिमाचल दिवस आज, धामी गोलीकांड और सुकेत आंदोलन को क‍िया याद

मंडी। पद्धर में हिमाचल दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि 15 अप्रैल हिमाचल वासियों के लिए गर्व का दिन है, हमारे प्रदेश के गौरवमयी इतिहास में धामी गोलीकांड और सुकेत आंदोलन अहम है, और आज के द‍िन देश की रक्षा में जान गंवाने वालों को श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं। 1971 में जब प्रदेश पूर्ण राज्य बना तब भी विकास नहीं हो पाया। यहां विकास को गति देना कठिन काम था।

आज हिमाचल की गिनती मुख्य प्रदेशों में है। 2022 से पहले हिमाचल की 3615 पंचायतें सड़क सुविधा से जुड़ेंगी। सीएम ने कहा कि हर्ष का विषय है कि राज्य स्तरीय कार्यक्रम मंडी के पधर में हो रहा है। मंडी जिले की हिमाचल में अलग पहचान है। मंडी जिला को टूरिज्म डेस्टिनेशन बनाना सरकार का लक्ष्य है।

हिमाचल दिवस पर सीएम जयराम ठाकुर ने वार्ड सिस्टर्ज, स्टाफ नर्सों, वार्ड ब्वॉयज, चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों और आशा कार्यकर्ता आदि ऐसे तृतीय एवं चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों को अप्रैल एवं मई माह के लिए 1500 रुपये प्रतिमाह की दर से अनुग्रह अनुदान प्रदान करने की घोषणा की जो कोविड-19 मरीजों की देखभाल में निरंतर सेवारत हैं।

कोविड-19 रोगियों की संख्या में वृद्धि के दृष्टिगत पर्यटन उद्योग पर पड़े प्रतिकूल प्रभाव को देखते हुए सीएम ने सबवेंशन योजना में तीन महीने की वृद्धि कर जून, 2021 तक बढ़ाने की घोषणा की। इसके अतिरिक्त, सभी होटलों, पर्यटक लॉजिज और पर्यटक इकाइयों के मांग शुल्क को दो महीनों के लिए स्थगित किया जाएगा तथा उनसे कोई विलम्ब अदायगी शुल्क नहीं वसूला जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि बाद में असान किस्तों पर भुगतान का प्रावधान किया जाएगा। डिमांड शुल्क के स्थगन की सुविधा प्रदेश के निजी स्कूलों को भी उपलब्ध होगी

उन्होंने यह घोषणा भी की कि राज्य परिवहन में लगने वाले राज्य सड़क कर में अप्रैल से जून महीनों तक 50 प्रतिशत की छूट दी जाएगी। इसके अतिरिक्त, कांट्रेक्ट कैरिज और टैक्सियों आदि को भी यात्री कर में अप्रैल से जून तक तीन महीने के लिए 50 प्रतिशत की छूट दी जाएगी।

– एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *