UPPCS 2021 परीक्षा के ल‍िए रिकॉर्ड आवेदन

प्रयागराज। 13 जून को उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग (UPPSC) द्वारा आयोजित PCS-2021 की प्रारंभिक परीक्षा के ल‍िए इस बार 7 लाख से ज्यादा आवेदन हुए हैं। आवेदनों की संख्या अपने आप में एक रिकॉर्ड है क्योंकि पीसीएस की परीक्षा में इससे पहले कभी 6 लाख से ज्यादा आवेदन नहीं हुए थे। ये संख्या इसलिए भी काफी ज़्यादा है, क्योंकि जिन 400 पदों पर भर्तियां होनी हैं, उनमे एसडीएम का एक भी पद नहीं है। इसके साथ ही इन पदों में 292 राजकीय इंटर कॉलेजों में प्रिंसिपल की भर्ती के हैं जबकि प्रशासनिक पदों पर भर्ती के लिए सिर्फ 102 सीटें ही हैं।

19 जिलों में आयोजित की जाएगी प्रारंभिक परीक्षा
प्रारम्भिक परीक्षा प्रयागराज, लखनऊ, आगरा, अयोध्या, आजमगढ़, बाराबंकी, बरेली, गाजियाबाद, गोरखपुर, जौनपुर, झांसी, कानपुर नगर, मथुरा, मेरठ, मिर्जापुर, वाराणसी, रायबरेली, मुरादाबाद और सीतापुर में होगी।

मुख्य परीक्षा के लिए हर एक पद के मुकाबले 13 और इंटरव्यू के लिए तीन अभ्यर्थियों का चयन किया जाएगा। अर्थात् यद‍ि पदों की संख्या में बदलाव नहीं होता है तो मुख्य परीक्षा के लिए 5200 और इंटरव्यू के 1200 आवेदकों को चुना जाएगा।

इन पदों पर होगी भर्ती
इस बार की पीसीएस परीक्षा से जिन 400 पदों के लिए भर्ती होनी है, उनमें सबसे ज्यादा 292 राजकीय इंटर कॉलेजों में प्रिंसिपल के हैं। इसके अलावा डिप्टी एसपी के 16, बीडीओ यानी ब्लाक डेवलपमेंट ऑफिसर के 30, एआरटीओ के चार, औद्योगिक विकास में वित्त एवं लेखाधिकारी के छह पद हैं। इसके अलावा कम संख्या वाले तमाम अन्य पद भी हैं। इन 400 भर्तियों में इस बार एसडीएम का पद नहीं है हालांकि मुख्य परीक्षा शुरू होने से पहले पदों की संख्या को नया अधियाचन मिलने पर बढ़ाया भी जा सकता है।

पिछले 10 सालों में यूपी पीसीएस की परीक्षा के लिए हुए आवेदन की संख्या
साल 2012 की पीसीएस परीक्षा के लिए 2,59,164 आवेदन हुए थे। अगले साल 2013 में 3,88,466, साल 2014 में 4,43,079 अभ्यर्थियों ने आवेदन किया था।

साल 2015 में भी 4.40 लाख आवेदन किये गए थे. इसी तरह साल 2016 में 4,36,413 और साल 2017 में 4,55,297 आवेदन हुए थे। साल 2018 की प्री परीक्षा में 5,35,844, साल 2019 में 5,44,664 और साल 2020 में 5,95,696 अभ्यर्थियों ने आवेदन किया था।

– एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *