RCB के कप्तान विराट ने कहा: हम यहां खेलने आए हैं, घूमने नहीं

दुबई। भारत और रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर RCB के कप्तान विराट कोहली कोविड-19 महामारी के बीच क्रिकेट खेलने के महत्व को समझते हैं और वह चाहते हैं कि इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) में भाग लेने वाले सभी खिलाड़ी और अन्य सदस्य टूर्नामेंट के जैव सुरक्षित वातावरण का सम्मान करें।
आरसीबी के यूट्यूब कार्यक्रम ‘बोल्ड डायरीज’ में बात करते हुए 31 वर्षीय कोहली ने कहा कि कोविड-19 के कारण लगाए गए लॉकडाउन के दौरान उन्हें क्रिकेट की कमी नहीं खल रही थी। उन्होंने कहा, ‘मैं पिछले दस वर्षों से लगातार खेल रहा था। इससे एक तरह से मुझे नए रहस्य का पता चला कि मुझे हर समय खेल की कमी नहीं खल रही थी।’
कोहली अब संयुक्त अरब अमीरात UAE में 19 सितंबर से शुरू होने वाले आईपीएल की तैयारियों में जुटे हैं और उन्होंने कहा कि BCCI की मानक संचालन प्रक्रिया (SOPs) और जैव सुरक्षित वातावरण के कारण लगाए गए प्रतिबंधों का सभी भागीदारों को अनिवार्य रूप से पालन करना चाहिए।
कोहली ने कहा, ‘हम सभी यहां क्रिकेट खेलने आए हैं। टूर्नामेंट के दौरान हर समय जैव सुरक्षित वातावरण का सम्मान करना जरूरी है। हम यहां मस्ती करने और इधर-उधर घूमने और यह कहने के लिए नहीं आए हैं कि मैं दुबई में घूमना चाहता हूं।’
उन्होंने कहा, ‘अभी हम इस तरह के दौर में नहीं जी रहे हैं। अभी हम जिस दौर से गुजर रहे हैं उसे स्वीकार करो और हमें आईपीएल (IPL) का हिस्सा बनने का जो अधिकार मिला है उसको समझो। सभी को इसे स्वीकार करना चाहिए और ऐसा व्यवहार नहीं करो जो परिस्थिति के विपरीत हो।’
पांच महीने बाद खेल में लौटने के बारे में कोहली ने कहा कि उन्हें लय हासिल करने में ज्यादा समय नहीं लगा। उन्होंने कहा, ‘दो महीने पहले तक आप यह नहीं सोच सकते थे कि हम आईपीएल में खेलेंगे। जब कल हमारा अभ्यास सत्र हुआ तो तब मुझे अहसास हुआ कि कितना अधिक समय बीत गया है। जब मैं अभ्यास सत्र के लिए जा रहा था तो थोड़ा नर्वस था।’
टूर्नामेंट जैव सुरक्षित वातावरण में दर्शकों के बिना खेला जाएगा और कोहली ने कहा कि शुरू में यह अजीब लगेगा लेकिन खिलाड़ी जल्द ही इससे सामंजस्य बिठा देंगे। उन्होंने कहा, ‘मैं यह नहीं कहूंगा कि यह मुश्किल या अजीब नहीं होगा। मैंने पिछले दस वर्षों से बल्ले की गेंद को हिट करने की आवाज नहीं सुनी है। आखिरी बार ऐसा रणजी ट्रोफी में हुआ था लेकिन अपनी जिंदगी में किसी ने किसी समय हमने ऐसा किया है।’
कोहली ने दर्शकों के बिना खाली स्टेडियमों में खेले जाने वाले घरेलू मैचों के संदर्भ में यह बात कही। उन्होंने कहा, ‘दर्शकों की अनुपस्थिति जरूर महसूस होगी लेकिन जल्द ही सभी इससे तालमेल बिठा लेंगे।’
स्वास्थ्य संबधी प्रोटोकॉल के कारण मैदान पर जश्न मनाने के तरीके भी बदल गए हैं और कोहली ने कहा कि किसी के पास भी इनको अपनाने के अलावा कोई विकल्प नहीं है। उन्होंने कहा, ‘यह संतुलित होना चाहिए। आप स्वच्छंद होकर कुछ नहीं कर सकते। आप बच्चों की तरह व्यवहार नहीं कर सकते।’
इस स्टार क्रिकेटर और उनकी पत्नी अनुष्का शर्मा के घर में जनवरी में पहला बच्चा आने वाला है और कोहली ने कहा कि जब से उन्हें इस बारे में पता चला तब से उनकी खुशी का ठिकाना नहीं है। उन्होंने कहा, ‘यह अविश्वसनीय अहसास है। हम कैसा महसूस कर रहे हैं इसको शब्दों में व्यक्त करना मुश्किल है।’
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *