रामभक्‍त आजम की प्रतिज्ञा, भूमिपूजन कार्यक्रम में नहीं बुलाया तो जल समाधि ले लूंगा

अयोध्‍या। अयोध्या में 5 अगस्त को देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भव्य राम मंदिर की आधारशिला रखेंगे। इसी कड़ी में मुस्लिम कारसेवक मंच के राष्ट्रीय अध्यक्ष आजम खान ने अयोध्या पहुंचकर एक प्रतिज्ञा ली है। उनका कहना है कि अगर 5 अगस्त को प्रधानमंत्री के भूमिपूजन कार्यक्रम में उनको नहीं आमंत्रित किया गया तो वे उसी दिन सरयू में जल समाधि ले लेंगे। उनका मानना है कि वह भगवान राम को मानने वाले हैं। वे भी भगवान राम के भक्त हैं।
खुद को सूर्यवंशी मुसलमान बताने वाले आजम खान ने कहा कि भगवान राम को किसी धर्म या जाति में नहीं बांधा जा सकता इसलिए वह भी राम मंदिर भूमि पूजन का साक्षी बनना चाहते हैं। आजम खान ने कहा कि वह भगवान राम को ही अपना आराध्य मानते हैं।
भगवान राम का हूं भक्त
आजम खान ने कहा है कि वो भगवान राम के भक्त हैं। साथ ही उन्होंने मंदिर निर्माण आंदोलन में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। ऐसे में भूमि पूजन समारोह में उन्हें आमंत्रित नहीं किया गया तो वो उसी दिन सरयू नदी में जल-समाधि ले लेंगे। उन्होंने कहा कि भगवान राम और लक्ष्मण ने भी इसी सरयू नदी में जल-समाधि ली थी। वो भी इसी नदी में जल-समाधि ले लेंगे।
5 अगस्त को भूमि-पूजन
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 5 अगस्त को अयोध्या में राम मंदिर की आधारशिला रखेंगे। इस समारोह में कई बड़े-बड़े नेताओं को भी आमंत्रित किया जा रहा है। हालांकि देश में कोरोना के कहर को देखते हुए कम लोगों को आमंत्रण भेजा जाएगा। सूत्रों के मबताबिक, इस अवसर पर सिर्फ 150 लोगों को ही निमंत्रण पत्र भेजा जाएगा। इस तरह सोशल-डिस्टेंसिंग के साथ केवल 200 लोगों को ही इस मौके पर सम्मिलित किया जाएगा।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *