रामविलास पासवान पंचतत्व में विलीन, बेटे चिराग ने दी मुखाग्नि

पटना। पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) के संस्थापक रामविलास पासवान (Ram Vilas Paswan) का राजकीय सम्मान के साथ शनिवार की शाम पटना के दीघा स्थित जर्नादन घाट पर अंतिम संस्कार किया गया। शनिवार सुबह आठ बजे से ही उनके पटना के श्रीकृष्णपुरी स्थित निजी आवास पर अपने लोकप्रिय नेता के अंतिम दर्शन को लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी। यहां से दोपहर में उनकी अंतिम यात्रा दीघा के जनार्दन घाट के लिए शुरू हुई। दोपहर पार्थिव शरीर जनार्दन घाट लाया गया। शाम करीब 04.45 बजे राम विलास के पुत्र व लोक जनशक्ति पार्टी के अध्यक्ष चिराग पासवान ने अपने पिता को मुखाग्नि दी।

मांझी ने की भारत रत्न देने की मांग

पूर्व मुख्‍यमंत्री और हम के प्रमुख जीतन राम मांझी ने रामविलास पाासवान के लिए भारत रत्‍न की मांग की है। हम के राष्ट्रीय अध्यक्ष जीतन राम माँझी ने राष्ट्रपति को लिखे पत्र में कहा है कि पासवान को भारत रत्न मिले और उनके दिल्ली आवास को स्मारक बनाया जाए।

केंद्रीय मंत्री की अंतिम यात्रा में फूलों से सजी गाड़ी पर भारी भीड़ के साथ पूर्व केंद्रीय मंत्री व लोजपा के संस्‍थापक राम विलास पासवान की अंतिम यात्रा पटना स्थ‍ित आवास से निकली ज‍िसमें लोगों का हुजूम देखकर उनकी लाेकप्रियता का अंदाजा लगाया जा सकता है। लोग भावुक थे । वे नारे लगा रहे थे । अपने प्रिय नेता की एक झलक पाने को उमड़ पड़े ।

– एजेंसी

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *