Janakpur के लिए रवाना हुई राम बरात, 28 नवं. को पहुंचेगी

अयोध्या। अयोध्या पर सुप्रीम फैसले के बाद विश्व हिंदू परिषद की भव्य तैयारी है। अयोध्या से नेपाल के जनकपुर तक राम बारात रवाना हो चुकी है। बारात में शामिल रथ को प्रस्तावित राम मंदिर का आकार दिया गया है। बिहार के सीतामढ़ी और दरभंगा होते हुए राम बारात 28 नवंबर को नेपाल के जनकपुर पहुंचेगी।

अयोध्या से नेपाल के जनकपुर तक राम बारात रवाना हो चुकी है। बारात में शामिल रथ को प्रस्तावित राम मंदिर का आकार दिया गया है।
अयोध्या से नेपाल के जनकपुर तक राम बारात रवाना हो चुकी है। बारात में शामिल रथ को प्रस्तावित राम मंदिर का आकार दिया गया है।

अयोध्या के कारसेवक पुरम् से भगवान श्री राम की बरात धूमधाम से जनकपुरी के लिए रवाना हो गई। जिसमें बड़ी संख्या में साधु-संत और श्रद्घालु शामिल हुए। राम बरात 28 नवंबर को नेपाल के जनकपुर पहुंचेगी। जहां एक दिसंबर को श्रीराम और माता जानकी का भव्य विवाह उत्सव होगा। जिसमें भारत व नेपाल की कई बड़ी हस्तियां शामिल होंगी। इसी दिन भारत और नेपाल के 108 जोड़ों का सामूहिक विवाह भी होगा। दो दिसंबर को कलेवा का आनंददायी क्षण भी आएगा, जब वधू पक्ष की ओर से अखिल ब्रह्माण्ड नायक परात्पर ब्रह्म को ही दूल्हा सरकार के रूप में गारियों से नवाजा जाएगा।
अयोध्या के कारसेवकपुरम् से रवाना हुई राम बरात अंबेडकरनगर, आजमगढ़ से होती हुई बिहार के सीतामढ़ी समेत कई स्थानों पर रूकती हुई जनकपुर पहुंचेगी।

कारसेवकपुरम् से बरात को रवाना करते हुए रामभक्त काफी उत्साह में दिखे। बरात में शामिल होने के लिए श्रद्घालु बड़ी संख्या में सुबह से ही आने लगे। इन सबके बीच राम मंदिर का सांकेतिक मॉडल भी राम बारात में साथ ले जाया जा रहा है। सुप्रीम कोर्ट से राम मंदिर को लेकर आए फैसले ने राम बारात का उत्साह और बढ़ा दिया है।

3 दिसंबर को वापस अयोध्या आएगी राम बरात
3 दिसंबर को प्रात: श्रीराम विवाह बरात यात्रा माता जानकी को साथ लेकर वापस अयोध्या धाम प्रस्थान करेगी। जहां पर अयोध्या की सीमा पर स्वागत होगा।

– एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »