राज्‍यसभा: पंजाब से संत सीचेवाल, विक्रमजीत साहनी आप के उम्मीदवार

नई दिल्‍ली। पंजाब से राज्‍यसभा के लिए इस बार जिन दो उम्‍मीदवारों की घोष्‍णा की है, वे दोनों ही पद्मश्री सम्‍मानप्राप्‍त हैं। पद्मश्री संत बलबीर सिंह सींचेवाल और पंजाबी कल्चर से संबंधित पद्मश्री विक्रमजीत सिंह साहनी को आप ने राज्यसभा के लिए नामित किया है। सीएम भगवंत मान ने इसकी घोषणा की।

आम आदमी पार्टी ने दो पद्मश्री अवार्ड से सम्मानित शख्सियतों को राज्य सभा सदस्य के तौर पर नामित किया है। इनमें वातावरण प्रेमी पद्मश्री संत बलबीर सिंह सींचेवाल और पंजाबी कल्चर से संबंधित पद्मश्री विक्रमजीत सिंह साहनी का नाम शामिल है। सीएम भगवंत मान ने इसकी घोषणा की। शुक्रवार को सीएम भगवंत मान ने शाहकोट के गांव सीचेवाल में संत बलबीर सिंह सीचेवाल से मुलाकात की थी। इस दौरान उन्होंने संत सीचेवाल के कामों की जमकर तारीफ की थी। इसके बाद से ही संत सीचेवाल के नाम पर मुहर लगने की चर्चाएं शुरू हो गई थी।

पर्यावरण के रखवाले माने जाते हैं संत सीचेवाल
पंजाब में वर्ष 2000 में कार सेवा शुरू करके संत सीचेवाल ने गुरु नानक देव जी से जुड़ी ऐतिहासिक नदी काली बेई का कायाकल्प करने में विशेष भूमिका निभाई थी। उनके प्रयास से ही औद्योगिक व मानवीय प्रदूषण से जाम 160 किलोमीटर लंबी काली बेई साफ हो पाई थी। आज काली बेई देश में न केवल एक रोल माडल के रुप में देखी जाती है, बल्कि आज वह जगह एक पिकनिक स्थल के रुप में विकसित हो चुकी है। सड़कों वाला बाबा, वेलफेयर बाबा, बेईं वाले बाबा और ईको बाबा से विख्यात संत सीचेवाल ने अपने हाथों से बेईं से कांग्रेस बूटी निकाली थी। शुरुआती दौर में अकेले चलने वाले संत सीचेवाल के प्रयास लोक लहर बन चुके हैं।

अंतरराष्ट्रीय उद्यमी हैं विक्रमजीत सिंह साहनी
विक्रमजीत सिंह साहनी सन ग्रुप के संस्थापक और अध्यक्ष हैं। उन्हें भारत की राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल द्वारा पद्मश्री सम्मान से नवाजा गया था। उन्हें नई दिल्ली में मॉरीशस के पूर्व राष्ट्रपति अनिरुद्ध जगन्नाथ द्वारा अंतरराष्ट्रीय शांति पुरस्कार से सम्मानित किया गया है। विक्रमजीत साहनी मूलरूप से दिल्ली के रहने वाले हैं। सिख शख्सियत के रूप में उनका अच्छा नाम है। वे समाजसेवी हैं। कोरोना संकटकाल में लोगों की मदद में भी उन्होंने बड़ी भूमिका निभाई।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *