राजीव एकेडमी के छात्रों ने जाना ह्यूमन रिसोर्स मैनेजमेंट

मथुरा। राजीव एकेडमी फॉर टेक्नोलॉजी एण्ड मैनेजमेंट में ऑनलाइन जूम-एप के माध्यम से गेस्ट लेक्चर का आयोजन किया गया जिसमें विषय विशेषज्ञों ने छात्र-छात्राओं को वर्तमान महामारी कोविड और ह्यूमन रिसोर्स मैनेजमेंट की बारीकियों से अवगत कराया। ऑनलाइन गेस्ट लेक्चर में संस्थान के एम.बी.ए. द्वितीय वर्ष के सभी छात्र-छात्राओं ने हिस्सा लिया।

गेस्ट लेक्चर में डायरेक्टर एक्सपर्टशाला ने छात्र-छात्राओं से कहा कि कोरोना महामारी के इस कठिन दौर में उन्हें शिक्षा की टेक्निक बदल कर अपडेट रहना चाहिए। उन्होंने बताया कि वैश्विक महामारी कोरोना का समस्त ह्यूमन रिसोर्स पर बुरा प्रभाव पड़ा है, इससे शिक्षा ही नहीं अन्य स्रोत भी अछूते नहीं हैं। उन्होंने कहा कि छात्र-छात्राओं को इस कठिन दौर से निपटने के लिए अध्ययन की तकनीक पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है।

गेस्ट लेक्चर के विषय ”असिस्मेंट ऑफ द इम्पेक्ट ऑफ कोविड-19 पेंडमिक ऑन ह्यूमन रिसोर्स मैनेजमेंट” पर सारगर्भित लेक्चर में उन्होंने कहा कि फाइनल ईयर के एम.बी.ए. के समस्त विद्यार्थियों को इस समय प्लेसमेंट की आवश्यकता है। अतः समस्त विद्यार्थी अपने रिज्यूमे आज के समय में कम्पनियों की मांग के अनुरूप तैयार करके ऑनलाइन अपलोड करें। उन्होंने बताया कि आजकल आईटी, एड्यूटैक आदि में हायरिंग चल रही है, जिसमें प्लेसमेंट भी हो रहे हैं।

एक्सपर्टशाला कम्पनी के चीफ मेण्टोर एण्ड को-फाउण्डर रवि चौधरी ने भी विद्यार्थियों से अपने विचार ऑनलाइन साझा किये और पेंडमिक ऑन ह्यूमन रिसोर्स मैनेजमेंट के सन्दर्भ में विद्यार्थियों की ऑनलाइन शंकाओं का समाधान किया। समस्त विद्यार्थियों ने दोनों विशेषज्ञों से आज के समय में प्लेसमेंट ज्वॉइन करने की नई टेक्निक के सन्दर्भ में टिप्स प्राप्त किये। छात्र-छात्राओं ने उक्त ऑनलाइन गेस्ट लेक्चर को करियर के लिए सुनहरा अवसर बताया।

आर.के. एज्यूकेशन हब के अध्यक्ष डा. रामकिशोर अग्रवाल ने अपने संदेश में कहा कि कोरोना संक्रमण के इस दौर में शैक्षिक गतिविधियां पूरी तरह से ठप हो गई हैं ऐसे में छात्र-छात्राओं को अपने गुरुजनों से निरंतर सम्पर्क में रहते हुए अपने पठन-पाठन को सुचारु रखना चाहिए।

प्रबंध निदेशक मनोज अग्रवाल ने कहा कि मौजूदा समय में ऑनलाइन शिक्षा के माध्यम से छात्र-छात्राएं अपने ज्ञान में अभिवृद्धि कर सकते हैं। संस्थान के निदेशक डॉ. अमर कुमार सक्सेना का कहना है कि राजीव एकेडमी द्वारा छात्र-छात्राओं को समय-समय पर विषय विशेषज्ञों से इसलिए रूबरू कराया जा रहा है ताकि वे बदलती शिक्षा पद्धति को आत्मसात कर अपने करियर को नया मुकाम दे सकें।

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *