राहुल के Amethi दौरे को प्रशासन ने अनुमति दी

अमेठी/उत्तर प्रदेश। Amethi में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के बुधवार से होने वाले तीन दिवसीय दौरे को जिला प्रशासन ने मंजूरी दे दी है।

Amethi के जिलाधिकारी योगेश कुमार ने कहा, ‘‘राहुल को चार से छह अक्तूबर के बीच अमेठी आना था। हमने कभी इस दौरे से मना नहीं किया। हमने जिला कांग्रेस प्रमुख को गोपनीय पत्र भेजा था कि दौरे को एक या दो दिन के लिए टाल दिया जाए क्योंकि सुरक्षाकर्मी दुर्गा मूर्ति विसर्जन और मोहर्रम के मददेनजर व्यस्त हैं।’’

उन्होंने कहा कि कांग्रेस सांसद तय कार्यक्रम के अनुसार ही आना चाहते थे इसलिए प्रशासन से इसकी मंजूरी दे दी।

इस बीच उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष राज बब्बर ने कहा कि राहुल को दौरा स्थगित करने के लिए कहकर भाजपा सरकार ने अपनी कायरता और भय को दर्शाया है।

सरकार को आशंका है कि कांग्रेस उपाध्यक्ष के दौरे से दस अक्तूबर को होने वाला भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और केन्द्रीय मंत्रियों स्मृति ईरानी एवं नितिन गडकरी का दौरा धूमिल पड़ सकता है।

जिला कांग्रेस प्रमुख योगेन्द्र मिश्र ने कहा कि राहुल अपने निर्वाचन क्षेत्र की जनता से मिलने आ रहे हैं। उन्हें रोका नहीं जा सकता। वह तय कार्यक्रम के अनुसार चार अक्तूबर को आएंगे।

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के अमेठी दौरे को प्रशासन ने हरी झंडी दे दी है. अमेठी के डीएम ने कार्यक्रम पर प्रतिबंध को गलत बताते हुए फिर से एक लेटर जारी किया है.

नए लेटर में अमेठी के डीएम योगेश कुमार ने लिखा है कि कांग्रेस के सांसद राहुल गांधी के दौरे को रद्द करने की खबरें गलत हैं. उन्होंने कहा कि कार्यक्रम को लेकर सिर्फ सलाह दी गई थी, रद्द करने का कोई आदेश नहीं दिया गया. डीएम ने लिखा, ‘माननीय सांसद के दौरे को रोकने की कोई कार्रवाई नहीं की गई, उन्हें सिर्फ सुरक्षा की दृष्टि से अवगत कराया गया था’.

रविवार को ही ये खबर आई थी कि प्रशासन ने सुरक्षा का हवाला देते हुए राहुल गांधी के प्रस्तावित दौरे को अनुमति देने से मना कर दिया है. राहुल गांधी 4 से 6 अक्टूबर तक अमेठी में रहेंगे. जिस पर अमेठी प्रशासन ने कहा था कि त्योहारों का मौका होने के चलते पुलिस काफी व्यस्त है, ऐसे में राहुल गांधी के कार्यक्रम को सही तरीके से संपन्न कराना काफी असुविधापूर्ण रहेगा.

पहले पत्र में ये लिखा था

पत्र में लिखा गया था कि 5 अक्टूबर तक पुलिस बल व्यस्त रहेगा, ऐसे में राहुल गांधी के कार्यक्रम के दौरान कानून व्यवस्था बनाए रखने में काफी असुविधा होगी. प्रशासन ने ये कारण बताते हुए राहुल गांधी का कार्यक्रम आगे बढ़ाने की अपील की थी.

कांग्रेस ने बताया था साजिश

कांग्रेस ने प्रशासन की इस अपील को बीजेपी की साजिश करार दिया था. कांग्रेस ने आरोप लगाया था कि अमित शाह के अमेठी दौरे से पहले राहुल गांधी का वहां जाना, बीजेपी को डरा रहा है.

वहीं पार्टी की तरफ से ये साफ कर दिया गया था कि राहुल गांधी अपना दौरा नहीं टालेंगे. बल्कि जो प्रस्तावित कार्यक्रम है, उसी के तहत Amethi जाएंगे।-एजेंसी