पंजाब पुल‍िस ने क‍िया खालिस्तान समर्थक आतंकी मॉड्यूल का भंडाफोड़

चंडीगढ़। हमले की तैयारी कर रहा खालिस्तान समर्थक आतंकी मॉड्यूल का भंडाफोड़ कर पंजाब पुलिस ने बड़ी कामयाबी हास‍िल की है।

पंजाब पुलिस ने बताया कि खुफ‍िया सूचनाओं के आधार पर हमने एक खालिस्तान समर्थक आतंकी मॉड्यूल का खुलासा करके एक बड़े आतंकी हमले को नाकाम कर दिया है। पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है जो प्रतिबंधित आतंकी संगठन खालिस्तान जिंदाबाद फोर्स (KZF) के ऑपरेटिव से जुड़े हुए थे, जोकि अभी अमृतसर जेल में बंद है।

डायरेक्टर जनरल ऑफ पुलिस (डीजीपी) दिनकर गुप्ता के मुताबिक, पाकिस्तान समर्थित मॉड्यूल का खुफिया इनपुट के आधार पर भंडाफोड़ किया गया। सूचना मिली थी कि कुछ खालिस्तान समर्थक तत्व पंजाब में आतंकी हमलों को अंजाम देने वाले हैं।

इनपुट मिलने के बाद पंजाब पुलिस ने राज्य में प्रवेश करने वाले लोगों की जांच और चौकसी बढ़ा दी थी। इस दौरान तरनतारन जिले के मियांपुर गांव निवासी हरीजत सिंह और शमशेर सिंह को गिरफ्तार किया गया। इन्हें राजपुरा-सरहिंद रोड पर होटल जाशान के पास चेक पोस्ट पर गिरफ्तार किया गया। इनके पास से छह हथियार बरामद हुए, जिनमें 9 एमएम पिस्टल, चार .32 कैलिबर पिस्टल और एक .32 रिवॉल्वर शामिल हैं। हथियारों के अलावा इनसे कई मोबाइल भी जब्त किए गए।

डीजीपी ने बताया कि आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की संबंधित धाराओं, आर्म्स एक्ट और अनलॉफुल एक्टिविटीज (प्रिवेंशन) अमेंडमेंट एक्ट, 2019 के तहत सदर पुलिस स्टेशन में केस दर्ज किया गया। शुरुआती पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि उन्हें चार हथियार मध्य प्रदेश के बुरहानपुर से मिले और दो हरियाणा के जिंद जिले में सफीदों से मिले। ये दोनों आरोपी तरनतारन जिले में हत्या के प्रयास के एक मामले में भी वांछित हैं।

पुलिस ने बताया कि दोनों आरोपी पंजाब में एक बड़े आतंकी हमले की साजिश रच रहे थे। इनमें पांच अन्य अपराधी शुभदीप सिंह (अमृतसर), अमृतपाल सिंह बाठ, (तरनतारन), रंदीप सिंह (अमृतसर), गोल्डी और आशु (करनाल, हरियाणा) भी साथ देने वाले थे।

पंजाब के डीजीपी ने बताया कि शुभदीप सिंह KZF का एक्टिव आतंकी था जिसे चीन निर्मित ड्रोन के साथ सितंबर 2019 में अमृतसर रूरल जिले से गिरफ्तार किया गया था। एनआईए ने पिछले साल उसके खिलाफ चार्जशीट दायर की थी।
– एजेंसी

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *