पुलवामा हमला: पीएम MODI ने कहा, मां भवानी पर भरोसा रखिए, इस बार सबका हिसाब होगा

टोंक। राजस्थान के टोंक में जनसभा को संबोधित करते हुए पीएम MODI ने कहा कि आंतक को बढ़ावा देने वालों का दाना-पानी बंद होना चाहिए। पीएम ने पुलवामा के जवानों को श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि हमारे जवानों ने 100 घंटे में बदला लिया। पीएम ने कहा कि हमारी सरकार के फैसलों की वजह से अलगाववादियों पर कार्यवाही सख्त हुई है।

जनसभा के दौरान पीएम मोदी ने कश्मीरी छात्रों को सुरक्षा का भरोसा दिया। इस दौरान पीएम ने पाकिस्तान और आतंकवाद पर भी जमकर हमला बोला। पीएम ने कहा कि दुनिया के ज्यादातर देश और लगभग सभी अंतर्राष्ट्रीय संस्थाएं पुलवामा हमले के खिलाफ एकजुट होकर भारत के साथ खड़ी हैं। मोदी ने कहा, ‘सीमा पर डटे हमारे सैनिकों पर, मोदी सरकार पर और मां भवानी के आशीर्वाद पर भरोसा रखिए, इस बार सबका हिसाब होगा।’
‘आतंक पर कार्यवाही मेरे हिस्से’
पीएम ने कहा कि हमारे सुरक्षा बलों ने हमले के 100 घंटे के भीतर ही उसके जिम्मेदार बड़े गुनहगारों को वहां पहुंचा दिया, जहां उनकी जगह थी। उन्होंने कहा, ‘दुनिया में शांति तब तक संभव नहीं है, जब तक आतंक की फैक्ट्रियां यूं ही चलती रहेंगी। आतंक की फैक्ट्रियों पर ताला लगाने का काम मेरे हिस्से लिखा है, तो वैसा ही सही।’
‘हमारे फैसलों से पाक में हड़कंप’
उन्होंने कहा, ‘पुलवामा हमले के बाद आपने भी देखा है कि कैसे एक-एक करके पाकिस्तान से हिसाब लिया जा रहा है। हमारी सरकार के फैसलों से वहां हड़कंप मचा है। अलगाववाद की भाषा बोलने वालों पर कार्यवाही तेज हुई है और यह आगे भी जारी रहेगी। यह नई नीति और नई रीति वाला भारत है।’
हमारी लड़ाई कश्मीर के खिलाफ नहीं
पीएम मोदी ने देश भर के कश्मीरी छात्रों सुरक्षा का भरोसा देते हुए कहा, ‘सेना को हमने खुली छूट दे दी है। मैं देख रहा हूं कि इन दिनों सोशल मीडिया पर वीर रस की बाढ़ आई है। मैं आपसे कहना चाहता हूं कि हमारी लड़ाई आतंकवाद के खिलाफ है। हमारी लड़ाई कश्मीर के लिए है, कश्मीरियों के खिलाफ नहीं। कश्मीरी बच्चों की सुरक्षा की जिम्मेदारी हमारी है। कश्मीर का बच्चा-बच्चा आतंकवादियों के खिलाफ है। हमें उसे अपने साथ रखना है।’
पीएम ने कहा कि अमरनाथ की यात्रा करने लाखों श्रद्धालु जाते हैं, उनकी देखभाल कश्मीर का बच्चा करता है। अमरनाथ यात्रियों को जब गोली लगी तो कश्मीर के मुसलमान खून देने के लिए कतार लगाकर खड़े हो गए थे।
पीएम ने कहा, ‘यदि देश में कश्मीरियों के खिलाफ कोई भी घटना होती है तो यह गलत है। इससे ‘भारत तेरे टुकड़े’ कहने वालों बढ़ावा मिलता है। हिंदुस्तान के किसी कोने में कश्मीर के लाल की हिफाजत का काम मेरे देश के हर व्यक्ति का है। मैं कश्मीर के भाइयों से कहना चाहता हूं कि 40 साल से आप भी इससे पीड़ित हैं।’
उन्होंने कहा, ‘दो साल पहले 100 से ज्यादा सरपंच मुझसे मिलने आए। मैंने उनसे कहा कि आप आएं हैं मुझे खुशी है। वे पंचायत के चुनाव कराना चाहते थे। मैंने उनसे कहा कि आपको वादा करना होगा कि कश्मीर में कोई भी स्कूल आतंकी घटना की भेंट नहीं चढ़ना चाहिए। उस वक्त उन्होंने वादा किया था कि वे अपने सिर कटा देंगे, लेकिन स्कूलों को जलने नहीं देंगे। इसी का नतीजा है कि कश्मीर के लोगों ने आतंकियों की खबरें पुलिसवालों को दीं। आतंकवाद को जड़ से उखाड़ना है तो गलती न करें, कश्मीरी आतंक की वजह से परेशान हैं।’
पाक पीएम पर करारा वार
पीएम मोदी ने कहा कि पाकिस्तान में नई सरकार बनी। स्वाभाविक है कि मैंने उनके नए पीएम को फोन करके बधाई दी थी। मैंने उनसे कहा था कि बहुत लड़ लिया हम दोनों ने, और इस लड़ाई से पाकिस्तान ने कुछ नहीं पाया। आप खेल की दुनिया से राजनीति में आए हैं। आइए दोनों देश मिलकर गरीबी के खिलाफ लड़ें।
मोदी ने बताया कि उस वक्त पाक के नए पीएम ने कहा था मोदी जी मैं पठान का बच्चा हूं, सच्चा बोलता हूं, सच्चा करता हूं। आज पाक के पीएम को इन शब्दों की कसौटी पर खरा उतरने की जरूरत है।
पीएम ने कहा, ‘मुझे मुट्ठी भर लोगों पर अफसोस होता है जो भारत में रहते हुए पाक की भाषा बोलते हैं। ये वही लोग हैं, जो पाक जाकर कहते हैं कि कुछ भी करो लेकिन मोदी को हटाओ। ये वही लोग हैं जो मुंबई हमले के बाद आतंकवाद को जवाब नहीं दे पाए थे।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *