हाइपरटेंशन से मुक्‍ति दिला सकता है अनार का जूस

पिछले दिनों हुई अलग-अलग रिसर्च में सामने आया है कि भारत में हाइपरटेंशन की समस्या बहुत तेजी से बढ़ी है। आज के समय में हर तीन भारतीयों में एक इस समस्या की गिरफ्त में है। ये और बात है कि हम भारतीय आदतन अपनी सेहत को लेकर लापरवाह होते हैं। सेहत की अनदेखी के परिणाम घातक हो सकते हैं। आज हम यहां एक ऐसी ड्रिंक के बारे में बात करेंगे, जो हाइपरटेंशन में रिलीफ देने के साथ ही स्वाद भी देती है।
क्यों बढ़ रही है हाइपरटेंशन?
रोज के काम का दबाव इतना अधिक बढ़ रहा है और हमारी सेहत को इतना अधिक नुकसान पहुंचा रहा है कि हम गंभीर रूप से बीमार हो रहे हैं। खास बात यह है कि हमें इस बीमारी का अहसास भी तब होता है, जब बीमारी गंभीर अवस्था में पहुंच चुकी होती है।
हो जाती है ब्लड प्रेशर की समस्या
लगातार सिरदर्द रक्तचाप की समस्या में बदल जाता है। उच्च रक्तचाप से पीड़ित व्यक्ति की कार्य क्षमता प्रभावित होने लगती है और जाहिर तौर पर इससे उसे परफॉर्मेंस पर असर पड़ता है। परेशानी की बात यह है कि ये स्थिति एक स्लो किलर के रूप में काम करती है और हमारे पास ऐसा कोई तरीका नहीं कि इस समस्या को हम शुरुआती दिनों में ही जानकर कंट्रोल कर लें।
यही है बचाव का तरीका
हाइपरटेंशन और हाई ब्लड प्रेशर से बचने का एक ही तरीका है कि कंट्रोल डाइट लें। अपने खाने में नमक की निर्धारित मात्रा का उपयोग करें। इसी तरीके से हम अपना ब्लड प्रेशर रेग्युलेट कर सकते हैं। हालांकि कुछ दवाइयों के सेवन से भी इसे कंट्रोल किया जा सकता है लेकिन यह तरीका बहुत अच्छा तो नहीं माना जा सकता है।
यह है सबसे सेफ सलूशन
किसी भी तरह की दवाइयों से बचते हुए अपने आप को हाइपरटेंशन से दूर रखने का एक शानदार तरीका है अनार के स्वादिष्ट जूस का सेवन। इस जूस के जरिए न केवल आप हाइपरटेंशन की स्टेज तक पहुंचने से बचेंगे बल्कि रोजमर्रा की जिंदगी में होनेवाले स्ट्रैस से भी यह आपको फ्री रखता है।
ब्लड प्रेशर रखता है कंट्रोल
अनार के जूस का यदि नियमित तौर पर सेवन किया जाए तो कभी भी हाई ब्लड प्रेशर की समस्या नहीं होती है। पिछले दिनों यूके में हुई हेल्थ से जुड़ी एक स्टडी में यह बात सामने आई है। इस स्टडी में शामिल किए गए लोगों को प्रतिदिन अनार का 500 एमएल जूस दिया जाता था।
यह भी रहा एक गुड साइन
स्टडी में शामिल किए गए लोगों को प्रतिदिन अनार का जूस देने से और भी कई अच्छे बदलाव उनकी सेहत में देखने को मिले। इनमें से एक और खास परिवर्तन था उनके बढ़ते वजन में कमी और नियंत्रण। साथ ही इन लोगों में ब्लोटिंग की समस्या भी कंट्रोल हो चुकी थी।
क्यों है अनार इतना कारगर?
अनार में विटामिन- सी बहुत अधिक मात्रा में होता है। साथ ही अनार में पॉलिफेनोल नाम का एक एंटिऑक्सिडेंट भी पाया जाता है। अनार में इसकी मात्रा दूसरे किसी भी फ्रूट से अधिक होती है। इसके अलावा अनार में लिपोप्रोटीन होता है, जो शरीर के लिए मरहम का काम करते हैं।
ऐसे काम करता है अनार
अनार कोलेस्ट्रॉल के स्तर में कटौती करता है और महत्वपूर्ण कैरोटीड धमनियों की मोटाई को कम करता है, जो रक्तचाप को कम करने में कार्य करते हैं। यह न केवल उन लोगों के लिए एक आश्चर्यजनक फल है जो आयरन की कमी से पीड़ित हैं बल्कि यह ब्लड प्रेशर रीडिंग को भी संतुलित करता है।
इन खूबियों से भरपूर है अनार
इसमें स्वस्थ पोटेशियम, सोडियम व फोलेट भी होते हैं, जो आपके दिल को स्वस्थ रखते हैं और आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाते हैं। अनार में मौजूद एंटिऑक्सिडेंट एक गिलास वाइन या ग्रीन टी की तुलना में तीन गुना अधिक होते हैं इसलिए यह उन लोगों के लिए भी एक अच्छा विकल्प है, जो इन पेय पदार्थों में कटौती करना चाहते हैं।
इस बात का रखें ध्यान
अनार के जूस का सेवन करते समय इस बात का ध्यान रखना जरूरी है कि अगर आप किसी बीमारी का इलाज करा रहे हैं तो अनार के जूस का सेवन करने से अपने चिकित्सक से जरूर परामर्श करें क्योंकि यह कुछ खास दवाइयों के संपर्क में आने पर साइड इफेक्ट्स दे सकता है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »