रातोंरात बदली स‍ियासी तस्वीर, Devendra Fadnavis बने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री, अजीत पवार उप मुख्यमंत्री

मुंबई। बीजेपी और एनसीपी ने म‍िलकर महाराष्ट्र में रातोंरात स‍ियासी तस्वीर ऐसी बदली क‍ि Devendra Fadnavis ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली और एनसीपी के अजीत पवार ने उप मुख्यमंत्री पद संभाला। पीएम नरेंद्र मोदी ने Devendra Fadnavisको दोबारा महाराष्ट्र का सीएम बनने पर दी बधाई। ट्वीट कर दी बधाई। राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने देवेंद्र फणनवीस और अजीत पवार को शपथ द‍िलाई।

शपथ लेने के बाद महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणीवस ने कहा क‍ि महाराष्ट्र की जनता ने स्पष्ट जनादेश दिया था। हमारे साथ लड़ी शिवसेना ने उस जनादेश को नकार कर दूसरी जगह गठबंधन बनाने का प्रयास किया। महाराष्ट्र को स्थिर शासन देने की जरूरत थी। फणनवीस ने महाराष्ट्र को स्थायी सरकार देने का फैसला करने के लिए अजीत पवार को भी धन्यवाद द‍िया।

कल्पना से परे कुछ घंटे पहले तक एनसीपी-श‍िवसेना-कांग्रेस गठबंधन पर सबकी नज़रें ट‍िकी थीं वहीं आज सुबह सुबह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ट्वीट ने सभी राजनैत‍िक रणनीत‍िकारों को अचंभे में डाल द‍िया। बीजेपी ने रातोंरात बाजी पलटते हुए एनसीपी के साथ मिलकर सरकार बना ली और शिवसेना को इस गठबंधन की खबर तक नहीं लगी। सुबह राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने फडणवीस को सीएम पद शपथ दिलाई। अजित पवार उपमुख्यमंत्री बने हैं।

श‍िवसेना और कांग्रेस दोनों को बीजेपी का बड़ा झटका

कल शाम ही श‍िवसेना के संजय राउत ने कहा था क‍ि शिवसेना चीफ उद्धव ठाकरे मुख्यमंत्री बनने को तैयार हैं।

महाराष्ट्र में शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी की बैठक में मुख्यमंत्री के नाम पर कोई अंतिम फैसला नहीं हो पाया है। हालांकि, शिवसेना के वरिष्ठ नेता संजय राउत ने कहा है कि उद्धव ठाकरे मुख्यमंत्री बनने को तैयार हैं। इससे पहले तीनों पार्टियों की बैठक से निकलने के बाद शरद पवार ने कहा था कि जहां तक मुख्यमंत्री की बात है, उस पर कोई दोराय नहीं है। उद्धव ठाकरे को ही सरकार को लीड करना चाहिए।

वहीं कांग्रेस नेता पृथ्वीराज चव्हाण ने कहा था क‍ि तीनों पार्टियों ने सरकार गठन के बारे में सकारात्मक चर्चा की। हम कई मुद्दों पर आम सहमति पर पहुंच गए हैं, लेकिन चर्चा कल भी जारी रहेगी। शरद पवार जी ने जो कहा है कि वह रिकॉर्ड पर है, मैं उस पर बात नहीं करूंगा। जब हम सभी चीजों पर चर्चा कर लेंगे, तब हम उन पर बात करेंगे।
– एजेंसी

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *