लाल किले से पीएम मोदी ने कहा, हम न समस्‍याओं को टालते हैं और न पालते हैं

नई दिल्‍ली। देश के 73वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर लाल किले की प्राचीर से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जम्‍मू-कश्‍मीर से अनुच्‍छेद 370 और 35A को हटाने का विरोध करने वाली कांग्रेस पार्टी पर तीन सवालों के जरिए हमला बोला। उन्‍होंने कहा कि हम न समस्‍याओं को न टालते हैं और न पालते हैं। सरकार बनने के 70 दिन के भीतर 370 और 35 A को हमने हटा दिया और संसद ने इसे दो तिहाई बहुमत से पारित कर दिया। उन्‍होंने कहा कि जो काम 70 साल में नहीं हुआ, वह 70 दिन के भीतर हुआ।
पीएम मोदी ने कहा, ‘अनुच्छेद 370 को हटाने के लिए कोई प्रखर तो कोई मूक रूप से समर्थन देता रहा है। राजनीतिक के गलियारों में, चुनाव के तराजू से तौलने वाले कुछ लोग, 370 के पक्ष में कुछ न कुछ बोलते रहते हैं। 370 की वकालत करने वालों से देश पूछ रहा है कि अगर यह आर्टिकल इतना अहम था तो फिर 70 साल तक इतना भारी बहुमत होने के बाद भी आपने उसे स्थायी क्यों नहीं किया, अस्थायी क्यों बनाए रखा। आगे आते स्थायी कर देते। आप भी जानते थे कि जो किया गया था, वह सही नहीं था लेकिन सुधार करने की आपमें हिम्मत नहीं थी। मेरे लिए देश का भविष्य सब-कुछ है।’
उन्‍होंने कहा, ‘आर्टिकल 370 और 35 ए… हम न समस्याओं को टालते हैं, न समस्याओं को पालते हैं। न समस्याओं को पालने और न टालने का वक्त है। जो काम 70 साल में नहीं हुआ, वह नई सरकार बनने के 70 दिन के भीतर किया गया। संसद के दोनों सदनों ने 2 तिहाई बहुमत से इसको पारित कर दिया। हर किसी के दिल में यह बात पड़ी थी लेकिन शुरू कौन करे, आगे कौन आए, शायद उसी की इंतजार था इसलिए देशवासियों ने मुझे यह काम दिया। आपने जो काम दिया, उसी को करने के लिए आया। मेरा अपना कुछ नहीं है।
पीएम मोदी ने कहा कि नई सरकार को 10 हफ्ते भी नहीं हुए, 10 हफ्ते के अंदर अनुच्छेद 370, 35 ए का हटना सरदार वल्लभ भाई पटेल के सपनों को पूरा करने में अहम कदम है। उन्‍होंने कहा, ‘अगर 2014 से 2019 आवश्यकताओं की पूरी का दौर था तो 2019 के बाद का कालखंड देशवासियों की आकांक्षाओं की पूर्ति का कालखंड है, उनके सपनों को पूरा करने का कालखंड है।’
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *