गुजरात के द्वारकाधीश मंदिर पहुंचे पीएम मोदी, जीएसटी काउंसिल के फैसले को सराहा

PM Modi reached Dwarkadhish temple in Gujarat, GST Council's decision appreciated
द्वारका (गुजरात) में जनसभा को संबोधित करते प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी

द्वारका (गुजरात)। दो दिवसीय गुजरात दौरे पर गए पीएम नरेंद्र मोदी शनिवार को द्वारकाधीश मंदिर पहुंचे। यहां पूजा-अर्चना करने के बाद उन्होंने बेट द्वारका को ओखा से जोड़ने के लिए बनने वाले ब्रिज की नींव रखी। इस मौके पर उन्होंने न केवल अपने विकास के कामकाज गिनाए, बल्कि यह भी बताया कि किस तरह जीएसटी के उनके फैसले से पूरे देश में खुशनुमा माहौल बन गया। मोदी ने कहा कि जीएसटी काउंसिल के शुक्रवार को लिए फैसले की वजह से दिवाली 15 दिन पहले आ गई। राजनीतिक जानकार मोदी के विकास को लेकर किए गए दावों को राज्य में जल्द में होने वाले चुनाव और कांग्रेस की आलोचना के जवाब के तौर पर देख रहे हैं। यह पीएम का बीते एक महीने में तीसरा गुजरात दौरा है।
मोदी ने बताया कि उन्होंने देश भर के अखबार देखे, जिनमें कहा गया है कि जीएसटी से जुड़े फैसले की वजह से देश में 15 दिन पहले दिवाली आ गई। मोदी ने कहा, ‘हमने पहले ही कहा था कि एक बार लागू करने के बाद तीन महीने तक अध्ययन करेंगे। जहां जहां कमियां होंगी, जो शिकायतें होंगी, व्यवहारिकता में कमी होगी, उसे दूर किया जाएगा। हम नहीं चाहते कि देश का कारोबारी फाइलों, बाबुओं और साहबगीरी में फंस जाए।’
पीएम के मुताबिक सरकार के इस फैसले का पूरे देश में स्वागत हुआ है।
‘माछीमारों और बंदरों’ पर जोर
मोदी ने अपनी स्पीच में ‘माछीमार भाइयों’ (मछुआरों) और ‘बंदरों’ (बंदरगाहों) की तरक्की पर जोर दिया। साथ ही ‘ब्लू इकॉनमी’ (समुद्र आधारित अर्थव्यवस्था) की बेहतरी के लिए उपाय किए जाने की बात कही। उन्होंने ऐलान किया कि सरकार मछुआरों को लोन देगी ताकि वे बड़ी बोट्स खरीद सकें। मोदी ने पूर्व की केंद्र सरकारों को भी निशाने पर लिया। उन्होंने कहा कि गुजरात में सीएम रहने के दौरान उन्होंने बंदरगाहों और टूरिजम की बेहतरी के लिए काफी कुछ करना चाहा लेकिन केंद्र सरकार से कोई सहयोग नहीं मिला।
समुद्री सुरक्षा के लिए मरीन पुलिस
पीएम ने देश की समुद्री जल सुरक्षा को लेकर बड़ा ऐलान किया। उन्होंने कहा कि समुद्री तटों की सुरक्षा के लिए मरीन पुलिस की आवश्यकता है, जिनकी ट्रेनिंग सामान्य पुलिस से अलग होगी। उन्होंने बताया कि द्वारका में एक मरीन ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट की स्थापना की जाएगी। बता दें कि पीएम मोदी के अलावा इस जनसभा में केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी, सीएम विजय रुपाणी, उप मुख्यमंत्री नितिन भाई पटेल, पूर्व सीएम आनंदी बेन पटेल, केंद्रीय मंत्री मनसुख भाई, राज्य सरकार के मंत्री और समेत कई सांसद व विधायक मौजूद थे।
-एजेंसी