वाराणसी में PM मोदी ने किया आत्मनिर्भर स्वस्थ भारत योजना का शुभारंभ

पीएम नरेंद्र मोदी ने सोमवार को वाराणसी में प्रधानमंत्री आत्मनिर्भर स्वस्थ भारत योजना का शुभारंभ क‍िया। साथ ही उन्‍होंने वाराणसी के लिए 5200 करोड़ से अधिक की अलग-अलग विकास परियोजनाओं का भी उद्घाटन क‍िया। इस दौरान जनसभा को संबोध‍ित करते हुए पीएम मोदी ने कहा क‍ि कोरोना महामारी के खिलाफ लड़ाई में राष्ट्र ने 100 करोड़ वैक्सीन खुराक देने का एक बड़ा मुकाम हासिल किया है। बाबा विश्वनाथ और मां गंगा के आशीर्वाद और काशी के लोगों के विश्वास से, ‘सबको वैक्सीन, मुफ्त वैक्सीन’ का अभियान सफलतापूर्वक आगे बढ़ रहा है।
वाराणसी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा क‍ि आज़ादी के बाद के लंबे कालखंड में आरोग्य पर, स्वास्थ्य सुविधाओं पर उतना ध्यान नहीं दिया गया, जितनी देश को जरूरत थी। देश में जिनकी लंबे समय तक सरकारें रहीं, उन्होंने देश के हेल्थकेयर सिस्टम के संपूर्ण विकास के बजाय, उसे सुविधाओं से वंचित रखा। उन्‍होंने कहा क‍ि देश के हेल्थ सेक्टर के अलग-अलग गैप्स को एड्रेस करने के लिए आयुष्मान भारत हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर मिशन के 3 बड़े पहलू हैं। पहला, डाइअग्नास्टिक और ट्रीटमेंट के लिए विस्तृत सुविधाओं के निर्माण से जुड़ा है। इसके तहत गांवों और शहरों में हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर खोले जा रहे हैं, जहां बीमारियों को शुरुआत में ही डिटेक्ट करने की सुविधा होगी। इन सेंटरों में फ्री मेडिकल कंसलटेशन, फ्री टेस्ट, फ्री दवा जैसी सुविधाएं मिलेंगी।
देश में स्वास्थ्य सुविधाएं बेहतर करने के लिए द‍िन रात काम
पीएम मोदी ने कहा क‍ि योजना का दूसरा पहलू, रोगों की जांच के लिए टेस्टिंग नेटवर्क से जुड़ा है। इस मिशन के तहत बीमारियों की जांच, उनकी निगरानी कैसे हो, इसके लिए ज़रूरी इंफ्रास्ट्रक्चर का विकास किया जाएगा। उन्‍होंने कहा क‍ि आज केंद्र और राज्य में वो सरकार है जो गरीब, दलित, शोषित-वंचित, पिछड़े, मध्यम वर्ग, सभी का दर्द समझती है। देश में स्वास्थ्य सुविधाएं बेहतर करने के लिए हम दिन रात एक कर रहे हैं।
अब गरीब माता-पिता का बच्चा भी डॉक्टर बनने का सपना देख सकेगा
पीएम मोदी ने कहा क‍ि यूपी में जिस तेजी के साथ नए मेडिकल कॉलेज खोले जा रहे हैं, उसका बहुत अच्छा प्रभाव मेडिकल की सीटों और डॉक्टरों की संख्या पर पड़ेगा। ज्यादा सीटें होने की वजह से अब गरीब माता-पिता का बच्चा भी डॉक्टर बनने का सपना देख सकेगा और उसे पूरा कर सकेगा। प्रधानमंत्री ने कहा क‍ि आज काशी का हृदय वही है, मन वही है, लेकिन काया को सुधारने का ईमानदारी से प्रयास हो रहा है। जितना काम वाराणसी में पिछले 7 साल में हुआ है, उतना पिछले कई दशकों में नहीं हुआ।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *