Jamnagar में पीएम मोदी ने कहा, राफेल होता तो न हमारा कोई विमान गिरता और न पाक का कोई विमान बचता

जामनगर। गुजरात के Jamnagar में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि आतंकवाद की बीमारी की जड़ पड़ोस (पाकिस्तान) में है और इसे जड़मूल से खत्म किया जाना चाहिए। Jamnagar रैली मेें उन्होंने हाल में पाकिस्तान में आतंकी कैंपों पर हुई भारतीय वायु सेना की कार्रवाई के बारे में विपक्ष के बयानों पर भी कड़ा प्रहार किया और कहा कि विपक्षी दलों का लक्ष्य केवल मोदी को खत्म करने का है जबकि उनका लक्ष्य आतंकवाद को खत्म करने में हैं। आपको बता दें कि प्रधानमंत्री ने आज से शुरू हुए अपने दो दिवसीय गुजरात दौरे के इस पहले कार्यक्रम के दौरान कई योजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण भी किया।

गुजरात के Jamnagar में पीएम मोदी के भाषण की खास बातें

मैंने कहा था कि अगर राफेल समय पर मिल जाता तो स्थिति अलग होती, लेकिन उन्होंने कहा कि मोदी हमारी वायु सेना के हवाई हमले पर सवाल खडे़ कर रहे हैं।

समझदारी का इस्तेमाल करें, मैंने कहा था कि अगर हवाई हमले के दौरान राफेल हमारे पास होता, तो न हमारा कोई विमान गिरता और न उनका कोई विमान बचता।

गुजरात के जामनगर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि पूरा देश सहमत है कि आतंकवाद का खात्मा करना होगा। मैं आप लोगों से पूछना चाहता हूं कि क्या आपको अपने सशस्त्र बलों की बातों पर भरोसा नहीं है? हमें हमारे सशस्त्र बलों पर गर्व होना चाहिए।

कोई भी देश शक्ति सार्मथ्य के बिना चल नहीं सकता। गुजरात में ही आये दिन सांप्रदायिक दंगे होते रहते थे पर जब वैमनस्य फैलाने वाले लोगों को ठिकाने लगाया गया तो यह सब थम गया।

पीएम ने सवालिया लहजे में कहा कि इस देश में जमी हुई आतंकवाद की बीमारी को जड़ मूल से उखाड़ा जाना चाहिए अथवा नहीं। जैसे बीमारी की जड़ का पता लगाने के बाद ही उसके हिसाब से इलाज होता है वैसे ही आतंकवाद के मूल का इलाज होना चाहिए। आतंकवाद की मूल पड़ोस में है।

विपक्ष पर प्रहार करते हुए कहा कि इसे अपनी देश की सेना के बयान पर भरोसा नहीं है। तुम्हे अपने देश की सेना जो कहे उस पर भरोसा है कि नहीं। सच को मानना पड़ेगा। पर कितने लोगों को पेट में दुखता है ऐसे समय में जब देश को गर्व होना चाहिए कि सेना ताकत दिखा रहीं है।

दिल्ली के एक भाषण में मैने जब कहा कि सेना ने अद्भुत पराक्रम दिखाया और इस पर हमे गर्व है पर आज वायुसेना के पास राफेल विमान होता तो परिणाम अलग होता। अब जिसको जो समझ आये वह बोलेगा।

मोदी सेना ने जो किया उस पर सवाल खड़ा किया है। अरे भाई सामान्य बुद्धि इस्तेमाल करो। मेरे कहने का मतलब है कि एयर स्ट्राइक यानी हवाई हमले के समय राफेल होता तो हम एक भी गंवाते नहीं और उनका एक भी बचता नहीं। हमारा संकल्प है कि देश को तबाह करने वाले आतंकियों और उनके सीमापार बैठे आकाओं को छोड़ेंगे नहीं।

मेरे विरोधियों को इस पर आपति है कि मोदी क्या करता है। देख लो ना भाई मोदी क्या करता है। उनका मंत्र है़ आओ साथ मिलो मोदी को खत्म करो। देश का मंत्र आओ एक साथ मिलो आतंकवाद को खत्म करो। उन्हें मोदी को खत्म करना है मुझे आतंकवाद करना है। देश के लोग आतंकवाद खत्म करने वाले के साथ जायेंगे कि नहीं।

प्रधानमंत्री इससे पहले अपने लंबे संबोधन में आयुष्मान भारत योजना की चर्चा के दौरान अचानक भूल से पाकिस्तान के कराची शहर का नाम ले लिया। इस पर उन्होंने चुटकी लेते हुए कहा कि उनके दिमाग में आज कल यह सब भरा हुआ है क्योंकि यह सब करना पड़ता है। उन्होंने लोगों से पूछा कि यह सही है या नहीं।

-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *