मोटापा कम करने की कोशिश में डिप्रेशन के शिकार हो जाते हैं लोग

मोटापा हो तो लाइफस्टाइल से जुड़ी बीमारियां जल्दी लगने का खतरा होता है, साथ ही डिप्रेशन में जाने का खतरा भी रहता है क्योंकि आप समाज में आना-जाना अवॉइड करने लगते हैं।
‘मेरी बेस्ट फ्रेंड की शादी थी लेकिन मैं उसकी शादी में नहीं जा पाई क्योंकि मैं बहुत मोटी हूं’, हाल में ही एक टीवी एक्ट्रेस ने यह बात कही।
उन्होंने बताया कि वह अपने मोटापे की वजह से कितना शर्मिंदा होती थीं। हालांकि अब उन्होंने इसे एक्सेप्ट कर लिया है। वैसे मोटापे की वजह से बहुत से लोगों का कॉन्फिडेंस कम होने लगता है।
जल्दबाजी से कम नहीं होता वजन
मेदांता अस्पताल के सीनियर सायकायट्रिस्ट डॉ. विपुल रस्तोगी कहते हैं कि ओबेसिटी की वजह बदला हुआ लाइफस्टाइल है जिसमें लोग अपनी फिटनेस के लिए पहले से अलर्ट नहीं होते या गलत फूड हैबिट्स के साथ जीने लगते हैं। जब वे मोटापा कम करना चाहते हैं और नहीं हो पाता तो डिप्रेशन में चले जाते हैं। लेकिन यहीं गड़बड़ी शुरू होती है कि मोटापे की वजह से मन उदास होता है और जब मन उदास हो तो मोटापा और बढ़ता है।
ज्यादा वजन की वजह से लोग वर्कआउट नहीं कर पाते, जॉइंट पेन होने लगते हैं और इससे वजन और बढ़ता है। मोटापे की कई मेडिकल वजह हो सकतीं हैं जैसे थाइरॉइड, एंडोक्राइनोलॉजिकल आदि। पूरा मेडिकल चेकअप कराना चाहिए। जल्दबाजी न करें तो वजन कम हो जाता है और कॉन्फिडेंस भी लौट आता है।
फिगर करेक्शन सर्जरी भी करा रहे हैं लोग
अपोलो स्पेक्ट्रा अस्पताल के सीनियर कॉस्मेटिक सर्जन डॉ. जीजेएस तुला बताते हैं कि खाना, पीना, परहेज और सेहतमंद जिंदगी का कोई विकल्प नहीं होता। अगर आप शॉर्टकट खोज रहे हैं तो अपने लिए परेशानी खड़ी कर सकते हैं। वेट लॉस सर्जरी (बैरियाट्रिक) केवल गंभीर मामलों में होती है वह भी मरीज की फिटनेस जांचने के बाद।
जो लोग कोशिश करके भी वजन कम नहीं पा रहे वे फिगर करेक्शन सर्जरी या लाइपोसक्शन करवाते हैं। वेट लॉस सर्जरी के वक्त उम्र 20-30 के बीच की न हो तो स्किन लटकने की संभावना रहती है। ऐसे में या तो लाइपोसक्शन होता है या प्लास्टिक सर्जरी के बाद कुछ वक्त तक प्रेशर गारमेंट पहनाकर स्किन टाइट की जाती है।
क्या-क्या करवाते हैं लोग
-फिगर करेक्शन सर्जरी
-टमी टक
-लिफ्ट सर्जरी
-फेस पर डबल चिन हो तो लाइपोसक्शन
-क्रायोलाइपोसिस (छोटे से पैच से फैट निकलवाते हैं)
-पुरुषों की छाती में उभार होने पर सर्जरी
-महिलाओं की कमर और बट्स का फैट हटाना
खर्च
लाइपोसक्शन
60 हजार से लेकर साढ़े तीन लाख तक
लिफ्ट सर्जरी जैसे ब्रेस्ट लिफ्ट
1 लाख से 4-5 लाख तक
प्रेशर गारमेंट
“2500 से “3000 तक
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *