पशुपति पारस की नई चाल, रामविलास पासवान के लिए ‘भारत रत्‍न’ मांगा

पटना। बिहार की राजनीति में रामविलास पासवान की पार्टी और उनके नाम पर कब्जा जमाने के लिए सियासी उठापटक जारी है। इसी बीच उनके भाई पशुपति पारस ने नया पैंतरा लिया है। पारस ने पीएम मोदी से मांग की है कि रामविलास पासवान को भारत रत्न दिया जाए।
चिराग के चाचा का नया पैंतरा
लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) के पशुपति कुमार पारस के नेतृत्व वाले धड़े ने चिराग पासवान के बाद पीएम नरेंद्र मोदी से पार्टी के संस्थापक और पूर्व केंद्रीय मंत्री दिवंगत रामविलास पासवान को भारत रत्न देने की अपील की है। एलजेपी के पारस धड़े ने यह भी मांग की है कि पटना या हाजीपुर में रामविलास की आदमकद प्रतिमा लगाई जाए। 5 जुलाई को होने वाले रामविलास पासवान की जयंती से पहले पीएम से ये मांग की गई थी।
दलित बस्ती में रामविलास की जयंती मनाएंगे चिराग
उधर रामविलास पासवान के बेटे और जमुई के सांसद चिराग ने हाजीपुर के पास एक दलित बस्ती सुल्तानपुर में एक समारोह आयोजित करने की घोषणा की है। जबकि 5 जुलाई को पारस गुट राजधानी पटना के LJP ऑफिस में इस अवसर का जश्न मनाएगा। पारस गुट ये भी चाहता है कि सीएम नीतीश कुमार रामविलास को भारत रत्न देने की सिफारिश करते हुए केंद्र को एक प्रस्ताव भेजें।
चिराग पहले ही कर चुके हैं भारत रत्न देने की मांग
इसी तरह का प्रस्ताव पहले नई दिल्ली में चिराग की अध्यक्षता में एलजेपी की कार्यकारी समिति की बैठक में अपनाया गया था। चिराग ने तब पीएम को पत्र लिखकर अपने पिता को राष्ट्र निर्माण और दलितों के उत्थान में उनके योगदान के लिए भारत रत्न से सम्मानित करने का आग्रह किया था।
पारस ने जारी किया बयान
पारस ने गुरुवार को जारी एक बयान में कहा कि ‘मेरे प्यारे भाई रामविलास पासवान दलितों और दलितों के मसीहा थे। वह उन घरों में मोमबत्तियां जलाना चाहता था जो सदियों से अँधेरे में पड़े थे। हमारी पार्टी उनके सपनों को पूरा करने में कोई कसर नहीं छोड़ेगी।’
पार्टी अभी भी मेरी: चिराग
चिराग और पारस दोनों के ही गुट इस समय रामविलास के जन्मदिन समारोह की तैयारियों में जुटे हुए हैं। इस बीच चिराग पासवान ने दोहराया कि वह पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं क्योंकि पारस गुट ने पार्टी के बंगले के चुनाव चिह्न पर अपना दावा नहीं किया है।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *